बोड़िया कमालपुर में चोरों का आतंक:दिन दहाड़े बंद मकान में सेंध लगाकर नकदी- जेवरात चुराए, गांव के अब तक 5 घरों में हो चुकी हैं चोरियों

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस को शिकायत बाद भी चोरों का सुराग नहीं

जिला के गांव बोडिया कमालपुर में चोरों का आतंक लगातार बढ़ता जा रहा है। गांव के बंद मकानों में अब तक चोरियों की 5 वारदात हो चुकी है और सोमवार को चोरों ने गांव निवासी टीचर राजकुमार के बंद मकान में सेंध लगाकर 13 हजार की नगदी के साथ जेवरात चुरा लिए। बढ़ती चोरियों की वारदातों से ग्रामीणों में रोष बना हुआ है और पुलिस से आरोपियों का सुराग लगाए जाने की मांग की है। पहले हुई चोरियों का भी पुलिस अभी तक कोई सुराग नहीं लगा पाई है।

पीड़ित अध्यापक राजकुमार ने बताया कि उनकी ड्यूटी किशनगढ़ बालावास स्कूल में लगी हुई है। परिवार के अन्य सदस्य भी नौकरी करते हैं। सभी अपनी ड्यूटी पर सुबह मकान पर ताला लगाकर चले गए थे। पीछे से उनकी बुजुर्ग मां ही घर पर अकेली रहती हैं। जिन्हें कम सुनाई और दिखाई देता है।

इसी का फायदा उठाकर चोरों ने पीछे से मकान में घुसकर अलमारी का लॉक तोड़कर चोरी की इस वारदात को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि चोरी संभवत एक दो दिन पहले की हुई है क्योंकि सोमवार को जब कुछ खुल्ले पैसे की जरूरत पड़ी तो अलमारी खोली थी। अलमारी का चोरों ने अंदर का लॉक तोड़कर इसमें रखे हुए गहनों के साथ 13 हजार रुपए कैश भी गायब मिला। इसके बाद ही चोरी की इस घटना का पता चला।

ग्रामीणों ने बताया की गांव में लगातार चोरियों की वारदात हो रही और चोर खासतौर से ऐसे मकानों को निशाना बना रहे हैं जो कि बंद रहते हैं। पिछले दिनों पोस्ट ऑफिस,सेना और अन्य विभागों में कार्यरत कर्मचारियों के घरों में सेंध लगाकर चोर लाखों कैश और जेवरात चुरा ले गए। सोमवार को यह गांव में पांचवी चोरी हुई है।

खबरें और भी हैं...