पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चक्का जाम:रोड जाम से बदले रूट तो सफर लंबा, झज्जर के लिए 16 और जयपुर के लिए 60 किलोमीटर ज्यादा चलना पड़ा

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 3 घंटे सड़कें अवरुद्ध कर किसानों ने किया कृषि कानूनों का विरोध

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठन शनिवार को जाम लगाने के लिए सड़कों पर उतरे। दिल्ली-जयपुर हाईवे और रेवाड़ी (बावल)- रोहतक हाईवे पर 3 जगह जाम लगाया। इससे वाहन चालकों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। हालांकि पुलिस ने जिले में ट्रैफिक व्यवस्था को संभालने के लिए 10 जगह नाके लगाए।

मुख्य रूप से 7 जगहों पर रूट डायवर्ट किया गया था, ताकि वाहनों को आगे निकाला जा सके। इस दौरान छोटी गाड़ियां अप्रोच रोड से निकलती रही, मगर माल सप्लाई के ट्रक व कंटेनर आदि भारी वाहन जाम में फंसे खड़े रहे। वाहनों चालकों के सामने दो तरह की स्थिति रही या तो 3 घंटे सड़क पर इंतजार या फिर अप्रोच रोड से 2 से 3 गुना सफर कर गंतव्य तक पहुंचा जाए। तकरीबन छोटी गाड़ियां बिना इंतजार किए डायवर्ट रूट से आगे बढ़ती गई। इससे उन्हें कई किलोमीटर ज्यादा चलकर जाना पड़ा। रोड जाम से बदले रूटों के चलते झज्जर के लिए 16 किलोमीटर तो जयपुर के लिए सफर 60 किमी. ज्यादा लंबा हो गया। दोनों हाईवे बाधित होने से इन रूटों पर इसी तरह की परेशानियां रहीं। सभी जगहों पुलिस पूरी तरह मुस्तैद रही।

जयपुर की 3 बसें रद्द, रोहतक की बाधित
3 घंटे के चक्का जाम का असर रोडवेज़ बसों के संचालन पर भी पड़ा। जयपुर की 3 बसें रद्द करनी पड़ी। हालांकि जाम की पहले से सूचना के चलते जयपुर के लिए यात्री भी बहुत कम पहुंचे। झज्जर-रोहतक रूट की बसें भी प्रभावित रहीं। कुछ बसों को 3 बजे जाम खुलने के हिसाब से ही बस स्टैंड से रवाना किया गया।

गंगायचा व बनीपुर चौक पर 12.15 बजे जाम, 2.50 बजे खुला : जिला में 2 हाईवे पर किसानों ने जाम लगाया। रेवाड़ी-रोहतक हाईवे 71 (नया नाम एनएच 352) को गंगायचा टोल के पास जाम किया गया। यहां 11.30 बजे किसान एकत्रित होना शुरू हो गए थे। करीब 12.15 बजे वाहनों का आवागमन रुक गया। जय किसान आंदोलन के जिला संयोजक धर्मपाल के नेतृत्व में लोग एकत्रित हुए।

पुलिस ने इस हाईवे पर झज्जर की ओर से पाल्हावास के पास पहले ही रूट डायवर्ट किया हुआ था, इसलिए ज्यादा ट्रैफिक दबाव बढ़ा भी नहीं। इसके अलावा दिल्ली-जयपुर हाईवे 48 पर किसान बावल (बनीपुर) चौक पर बैठे। यहां भी करीब 12.20 बजे जाम शुरू हुआ। हालांकि रेवाड़ी से बावल जाने क लिए सर्विस रोड खुला रहा।

वाहन असाई पुल के नीचे से होते हुए आम दिनों की तरह ही बावल जाते रहे। यहां बावल 84 से प्रधान, किसान यूनियन के महासचिव रामकिशन महलावत, भाकियू चढ़नी जिला प्रधान समय सिंह, उपप्रधान कुलदीप, युवा कांग्रेस के लवली यादव आदि के नेतृत्व में लोग पहुंचे। वहीं एनएच-48 को रेवाड़ी की सीमा से 2 किलोमीटर आगे राजस्थान के शाहजहांपुर में रोका गया। (संबंधित खबर पेज-4 पर पढ़ें)

सड़कों के विकल्प मौजूद, मगर सभी में बढ़ रही आवागमन की दूरी; जानिए इन पांच रास्तों पर कैसे करें सफर
1. दिल्ली, गुरुग्राम से जयपुर जाने वाहन चालक कापड़ीवास बॉर्डर से 75 फुटा रोड धारूहेड़ा से भिवाडी-अलवर होते हुए बहरोड जयपुर की तरफ यात्रा का विकल्प है। धारूहेड़ा से जयपुर 202 किलोमीटर है, जबकि अलावा होकर जाने में 250 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ रहा है।
2. रेवाड़ी से जयपुर कि तरफ जाने वाहन गढ़ी बोलनी, कोटकासिम, खैरथल अलवर के रास्ते से जयपुर की यात्रा कर सकते हैं। इस रूट से 245 किमी. का सफर है, जबकि रेवाड़ी से जयपुर एनएच-48 से 185 किमी. है। यानी 60 किमी. ज्यादा चलना होगा।
3. रेवाड़ी से बहरोड, नीमराणा जयपुर कि यात्रा करने वाहन चालक कुंड मांढ़ण के रास्ते से बहरोड, नीमराणा जयपुर की सुरक्षित यात्रा कर सकते हैं। रेवाड़ी-शाहजहांपुर रोड बंद होने से कुंड के रास्ते बहरोड़ जाने में भी (ग्रामीण रास्तों को छोड़कर) 20-22 किमी. ज्यादा चलना होगा।

4. रेवाड़ी से झज्जर, रोहतक की तरफ यात्रा करने वाहन चालक रेवाड़ी शहर, राव गोपाल देव चौक, बेरली, जाटूसाना, रोडहाई, पाल्हावास या कोसली होकर झज्जर का विकल्प है। मगर एनएच-71 से रेवाड़ी से पाल्हावास जाएं तो 20 किमी. तथा जाटूसाना होकर जाएं तो करीब 38 किमी. का सफर है। यानी यहां भी 18 किलोमीटर अधिक की दूरी बढ़ गई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें