पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रेवाड़ी:जिले की तीनों नगर निकायों को मिले 12 क्लर्क, खाली पद भरने से जल्द होंगे काम

रेवाड़ी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नप रेवाड़ी को 8, नपा धारूहेड़ा-बावल को 2-2 क्लर्क मिलने की उम्मीद

सरकार द्वारा हाल ही में जारी किए गए क्लर्क भर्ती के परिणाम के साथ ही क्लर्कों की ज्वाइनिंग प्रक्रिया भी शुरू हो रही है। शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अंतर्गत जिले के तीनों नगर निकायों को 12 क्लर्क मिले हैं। हालांकि किस निकाय में कितने क्लर्क ज्वाइन करेंगे, यह अभी तय नहीं है। अधिकारियों के अनुसार जिला नगरा युक्त दिनेश सिंह यादव ही इस पर अंतिम मुहर लगाएंगे। उम्मीद है कि सोमवार को बैठक बुलाई जाए, जिसमें इस पर स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। नए क्लर्क मिलने के बाद विभाग के काम में तेजी आएगी और फाइलें आगे बढ़ने में अनावश्यक देरी नहीं होगी।

नगर परिषद में 18 में से 15 पोस्ट रिक्त

नगर परिषद रेवाड़ी में क्लर्कों के 18 पर स्वीकृत हैं। इनमें से केवल 3 ही पदों पर क्लर्क हैं, जबकि सभी पद रिक्त हैं। दफ्तरों में इन 3 क्लर्कों के साथ ही कॉन्ट्रेक्ट पर भर्ती कंप्यूटर ऑपरेटरों के सहारे ही काम चलाया जा रहा है। नगर परिषद की प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच, रेंट ब्रांच, स्थापना शाखा और बिल्डिंग ब्रांचों में भी जोड़तोड़ से काम चल रहा है। अब उम्मीद है कि नगर परिषद को 7 से 8 क्लर्क मिल जाएंगे। इसके बाद नगर परिषद के कामों में तेजी आएगी। नगर परिषद ईओ डॉ. विजय पाल का कहना है कि सोमवार तक यह स्पष्ट हो जाएगा कि किस निकाय को कितने क्लर्क मिल रहे हैं।

धारूहेड़ा व बावल में 3-3 पोस्ट

नगर पालिका धारूहेड़ा और बावल सचिव समयपाल का कहना है कि दोनों ही जगह क्लर्क के 3-3 पद स्वीकृत हैं। अभी आउटसोर्सिंग से लगे कर्मियों के सहारे कामकाज चल रहा है। धारूहेड़ा में आउटसोर्सिंग से 3 और बावल में एक क्लर्क लगाया गया है। उम्मीद है कि कम से 2-2 क्लर्क इन नगर पालिकाओं को मिलेंगे। हालांकि ये स्पष्ट नहीं है कि नियमित क्लर्कों के आने से आउटसोर्सिंग पर लगे कर्मी भी यहां बने रहेंगे या फिर उन्हें हटा दिया जाएगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें