• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rewari
  • The Trial Of One way Traffic On The Circular Road Will Last For 3 More Days, The Decision Will Be Taken In The Meeting Of The Officers And Organizations.

जाम रोकने का पायलट प्रोजेक्ट:सरकुलर रोड पर वन-वे ट्रैफिक का ट्रायल 3 दिन और चलेगा अफसरों व संगठनों की बैठक में आगे के लिए निर्णय लेंगे

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राव अभय सिंह चौक पर बैरिकेडिंग सर्कल तैयार करते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
राव अभय सिंह चौक पर बैरिकेडिंग सर्कल तैयार करते कर्मचारी।
  • पब्लिक फीडबैक- समस्या से राहत, सुधार बाकी
  • भारी वाहनों पर सुबह 7 से रात 9 बजे तक शहर में प्रवेश पर लागू रहेगा प्रतिबंध

शहरी क्षेत्र की यातायात व्यवस्था को सुचारू रखने व जाम रहित सड़क बनाए रखने के लिए सरकुलर रोड पर वन-वे पायलेट प्रोजेक्ट 3 दिन और जारी रहेगा। डीसी यशेंद्र सिंह ने एसपी राजेश कुमार के साथ चर्चा के बाद यह निर्णय लिया है। अब यह व्यवस्था 10 दिसंबर तक जारी रहेगी। इसके बाद पुलिस प्रशासन के अधिकारी एक बार फिर समीक्षा बैठक करेंगे तथा आगे के लिए फैसला लिया जाएगा।

अभी तक सरकुलर रोड पर जाम की बड़ी परेशानी के चलते 7 दिन का ट्रायल लिया जा रहा था, जो कि 1 से 7 दिसंबर तक चला। अब इस ट्रायल को 10 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दिया गया है। वहीं, दुर्घटनाओं के लिए चलते ब्लैक स्पॉट बन रहे दिल्ली रोड स्थित राव अभय सिंह चौक पर अस्थाई सर्कल भी बनाया गया है। प्रशासन का दावा है कि इससे वाहनों की रफ्तार नियंत्रित की जा सकेगी तथा दुर्घटनाओं की संभावना कम होगी।

सरकुलर रोड पर जाम की परेशानी पुरानी है। करीब 5 किलोमीटर लंबे इस रोड के लगभग हर चौराहे पर जाम लगता था। सबसे अधिक परेशानी नाईवाली चौक, बस स्टैंड के पास अंबेडकर चौक व धारूहेड़ा चुंगी जैसा एरिया था। इसकी शिकायतें लगातार प्रशासन के पास पहुंचती रही। हाल ये था कि बस स्टैंड से नाईवाली चौक तक महज 2-4 मिनट के सफर में भी 15-20 मिनट लगना आम बात रही।

विशेषतौर से सुबह और शाम के समय तो समस्या विकट हो रही थी। इसी के चलते ट्रायल के तौर पर सरकुलर रोड पर वन-वे सिस्टम लागू किया गया। मंगलवार को एक सप्ताह की ट्रायल अवधि समाप्त हो गई, मगर प्रशासन ने इसे 3 दिन के लिए बढ़ा दिया।

व्यापारी और संगठनों से बैठक में लेंगे सुझाव

10 दिसंबर तक सरकुलर रोड़ पर वन-वे ट्रैफिक को पायलेट प्रोजेक्ट के तहत जारी रखा जाएगा। यातायात प्रबंधन के मद्देनजर 10 दिसंबर को बैठक भी आयोजित की जाएगी। इसमें पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी, संबंधित विभागाध्यक्ष के साथ ही व्यापारी व सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों को शामिल किया जाएगा। इस बैठक में यातायात प्रबंधन को ओर दुरुस्त करने की रूपरेखा सुनिश्चित की जाएगी।

हादसे में 1 जान गई- अब सुरक्षा के लिए बनाया बेरिकेडिंग सर्कल

शहर के दिल्ली रोड स्थित राव अभयसिंह चौक पर कई बार जानलेवा हादसे हो चुके हैं। एक दिन पहले भी यहां एक युवक की जान चली गई। सोमवार सुबह बाइक सवार कंपनीकर्मी को ट्रक ने कुचल दिया। हादसे में कर्मचारी की मौके पर ही मौत हो गई। चौक पर ट्रैफिक संचालन की अव्यवस्था, स्पीड ब्रेकर और अन्य इंतजाम नहीं होने से गुस्साए लोगों ने रोष प्रकट करते हुए जाम लगाने का भी प्रयास किया।

सुरक्षा व्यवस्था को लेकर शोर मचने पर मंगलवार को पुलिस प्रशासन ने यहां अस्थाई बेरिकेडिंग सर्कल के निर्देश दिए। मंगलवार को ही कंक्रीट के बेरिकेड्स लगाकर सर्कल तैयार भी कर लिया गया। रात के समय वाहन इससे ना टकराएं इसलिए रिफ्लेक्टर टेप भी लगाई गई हैं।

भारी वाहनों पर 14 घंटे प्रतिबंध

वन-वे ट्रायल के लिए तो शुक्रवार तक की समय सीमा तय की गई है, मगर भारी वाहनों के शहर में एंट्री अभी अनिश्चितकाल के लिए लागू रहेगी। सरकुलर रोड पर जाम की स्थिति से निपटने के लिए सुबह 7 बजे से लेकर रात 9 बजे तक भारी वाहनों का प्रवेश शहर में पूर्ण रूप से वर्जित रहेगा। एक दिसंबर से पहले भारी वाहनों की नो-एंट्री का समय भी सुबह 8 से रात 8 बजे तक था। सुबह स्कूली वाहनों, कंपनी की बसों आदि के साथ ट्रक आदि के प्रवेश से अच्छा खासा जाम लगता था। रात को 8 बजे भी सरकुलर रोड के चौराहे ब्लॉक हो जाते थे।

खबरें और भी हैं...