• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rewari
  • There Was No DAP For Two Days, When The Supply Reached 1500 Farmers Gathered In The Market, The Fertilizer Was Distributed Under The Guard Of The Police

खाद संकट:दो दिन से नहीं था डीएपी, सप्लाई पहुंची तो मंडी में उमड़ पड़े 1500 किसान, पुलिस के पहरे में बांटा गया खाद

रेवाड़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खाद के लिए मार्केटिंग सोसायटी कार्यालय के बाहर लगी लंबी कतार। - Dainik Bhaskar
खाद के लिए मार्केटिंग सोसायटी कार्यालय के बाहर लगी लंबी कतार।
  • जिले में 10 दिन से खाद को लेकर मारामारी, किसानों को उठानी पड़ रही है परेशानी
  • एक आधार कार्ड पर 2 बैग खाद मिला, शाम तक डटे रहे किसान

खाद की किल्लत ने किसानों की परेशानी बढ़ाई हुई है। सरसों बिजाई का समय निकल रहा है और खाद नहीं मिलने से खेत भी तैयार नहीं हो पा रहे हैं। किसानों को पिछले 10 दिनों से खाद के लिए मशक्कत उठानी पड़ रही है। अब दो दिन से तो सरकारी केंद्रों पर खाद ही नहीं थे। गुरुवार को रैक लगने की सूचना पर नई अनाज मंडी के मार्केटिंग सोसायटी कार्यालय के बाहर 600 से ज्यादा किसान पहुंच गए।

सुबह 10 के बाद जैसे ही खाद का ट्रॉला पहुंचा तो और भी किसान खाद लेने के लिए लाइन में लग गए। खाद वितरण में गड़बड़ी की शिकायतें ना हो और व्यवस्था बनी रहे, इसलिए पुलिसबल भी मौजूद रहा। दिनभर खाद का वितरण पुलिस के पहरे में कराया गया।

25 अक्टूबर तक सरसों बिजाई का सही समय

सरसों की बिजाई जिले में सितंबर के अंतिम सप्ताह से शुरू हो जाती है। लेकिन इस बार सितंबर माह में भी बरसात का दौर रहने से बिजाई के लिए खेत तैयार नहीं हो सके। इसलिए किसानों ने अक्टूबर के माह में ही बिजाई को लेकर खेत तैयार करने शुरू किए। किसानों का कहना है कि अब खेत तैयार करने के लिए खाद नहीं मिल रहा और बिजाई का समय निकलता जा रहा है। किसानों के अनुसार अगर समय पर बिजाई हो तो उत्पादन भी बेहतर होने की उम्मीद रहती है।

इफको का रैक आज लगेगा, कल से वितरण शुरु होगा

नई अनाज मंडी के इफको सहकारी केंद्र पर शुक्रवार को दोपहर बाद 22 हजार बैग खाद पहुंचने की संभावना है। दशहरे का अवकाश होने के चलते अगले दिन से खाद का वितरण किया जाएगा। इफको केंद्र पर भी दो दिन से खाद नहीं होने के कारण वितरण कार्य नहीं हो सका। यदि यह 22 हजार बैग खाद समय पर पहुंचता है तो किसानों के लिए बडी राहत होगी।

कोसली में भी बिना खाद लौटे किसान

रेवाड़ी की नई अनाज मंडी के अलावा कोसली में भी एक जगह खाद का वितरण हुआ। वहां भी किसानों की लंबी लाइन रही। एक आधार कार्ड पर दो बैग खाद मिल रहे हैं। ऐसे में किसानों को दो कट्टे खाद के लिए दिनभर इंतजार करना पड़ा। कईयों को तो बिना खाद के ही घर लौटना पड़ा।

खबरें और भी हैं...