प्रतिभागिता:19 सांस्कृतिक विधाओं में दो दिवसीय जिला स्तरीय युवा उत्सव 17 से शुरू

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग की ओर से 17 व 18 दिसंबर को राव तुलाराम स्टेडियम में जिला स्तरीय युवा उत्सव का आयोजन किया जाएगा। वाईसीओ अनिल कौशिक ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा निर्धारित 19 सांस्कृतिक विधाओं में जिला व राज्य स्तर पर प्रतिवर्ष प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि जिला स्तरीय युवा उत्सव के दौरान 17 दिसंबर को पंजीकरण कार्य व शास्त्रीय गायन व एकल विधाओं में शास्त्रीय नृत्य, तत्कालीन व्याख्यान में प्रतियोगिताएं करवाई जाएंगी व 18 दिसंबर को नाटक, समूह नृत्य, समूहगान, रागनी, अप्रतियोगिता श्रेणी तथा वाद्य यंत्र प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाएगा।

प्रतिभागियों को विधा अनुसार सुबह 9 बजे राव तुलाराम स्टेडियम में रिपोर्ट करनी होगी। सभी प्रतिभागियों को अपने साथ आयु प्रमाण पत्र, आधार कार्ड की प्रति व संबंधित शिक्षा संस्थान व स्वैच्छिक संस्थान के मुखिया से सत्यापित पत्र भी लाना होगा।

इन विधाओं में कर सकेंगे प्रतिभागिता

उन्होंने बताया कि शास्त्रीय नृत्य के अर्तंगत कलाकार मणीपुरी नृत्य, ओडिसी नृत्य, भरत नाटयम, कत्थक व कुचीपुडी नृत्य प्रस्तुत कर सकेंगे। जिसमें अधिकतम समय सीमा 15 मिनट होगी। शास्त्रीय गायन के अंतर्गत हिन्दुस्तानी व कर्नाटकी गायन प्रस्तुत कर सकते हैं। जिसमें अधिकतम समय सीमा 15 मिनट होगी। इसके अलावा एकल वादन के अर्तंगत सितार, बांसुरी, हारमोनियम, तबला, मृदंगम, वीणा व गिटार की प्रतियोगिता होगी।

वहीं नाटक में अधिकतम समय सीमा 45 मिनट की होगी। समूह नृत्य के तहत हरियाणी नृत्य की प्रस्तुति होगी, जिसका समय 10 मिनट का होगा, समूहगान, हरियाणवी रागनी की प्रतियोगिता होगी, जिसमें अधिकतम 10 प्रतिभागी भाग ले सकेंगे। जिला खेल अधिकारी मदनपाल ने बताया कि इस संदर्भ में राव तुलाराम स्टेडियम कार्यालय से भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। जिला स्तर पर विजेता रहने वाले प्रतिभागी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रतिभागिता करेंगे।

खबरें और भी हैं...