पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पारिवारिक विवाद:बीच-बचाव के लिए पहुंचे चाचा के दो बेटों को मारी गोली, एक की मौत एक गंभीर

रेवाड़ी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोली लगने से घायल अवस्था में विजय सिंह। - Dainik Bhaskar
गोली लगने से घायल अवस्था में विजय सिंह।
  • कसौला थाना क्षेत्र के गांव मुंडनवास में पिता-पुत्र के झगड़े ने लिया गंभीर रूप
  • बचाव में आवाज लगाने पर ताऊ के घर पहुंचे थे दोनों चचेरे भाई

जिला के कसौला थाना क्षेत्र के गांव मुंडन वास में पारिवारिक विवाद ने गंभीर रूप ले लिया। पिता-पुत्र के बीच चले रहे विवाद के बीच शनिवार को हुए झगड़े के दौरान आवाज लगाने पर पहुंचे चाचा के दो बेटों को ताऊ के बेटों ने गोली मार दी।

घटना में एक भाई की मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल को शहर के एक निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। दो भाईयों को गोली मारने की इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। घटना के बाद सीआईए को मामले की जांच सौंपी गई है।

पुलिस ने बताया कि गांव मुंडन वास निवासी दुलीचंद गांव में ही रहता है और उसका अपने पुत्रों के साथ विवाद चल रहा है। शनिवार दोपहर को पारिवारिक विवाद के चलते दुलीचंद के दोनों बेटे गांव में पहुंचे थे और इसी दौरान उनमें किसी बात को लेकर विवाद हो गया।

इस विवाद के दौरान उन्होंने अपने पिता और मां के साथ झगड़ा कर दिया। जिसके बाद दुलीचंद ने बचाव के लिए शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर सुनने के बाद उनका छोटा भाई सुभाष अपने भतीजे भीम सिंह के साथ वहां पहुंच गया। आरोप है कि जब दोनों वहां पर पहुंचे तो पाया कि दुलीचंद का एक पुत्र और पुत्रवधु उनके साथ मारपीट कर रहे थे।

सुभाष और भीम सिंह ने बीच-बचाव का प्रयास किया तो उन्होंने उनको छोड़कर भीम सिंह के साथ झगड़ा करने लगे। झगड़ा अधिक होने पर सुभाष चंद के दोनों पुत्र 37 वर्षीय विजयसिंह और 34 वर्षीय ब्रह्मप्रकाश भी अपने ताऊ के घर पहुंच गए। यहां आने पर उन्होंने भी बीचबचाव का प्रयास किया। इसके बाद झगड़ा बढ़ गया तो आरोपियों ने दोनों भाईयों पर गोली चला दी। गोली लगते ही विजयसिंह और ब्रह्मप्रकाश दोनों वहीं गिर गए।

घटना के बाद गांव में मचा हड़कंप

दोनों भाईयों को गोली मारने की घटना के बाद गांव में भी हड़कंप मच गया। इसके बाद गांव के काफी लोग मौके पर पहुंचे और दोनों घायलों को भीम सिंह और उनका पिता सुभाष साधन की व्यवस्था करके शहर के निजी अस्पताल में लेकर पहुंचे। यहां पर चिकित्सकों ने दोनों को संभाला लेकिन इसमें विजय सिंह को दो गोली लगने के कारण उसकी हालत काफी गंभीर बनी हुई। कुछ समय के उपचार बाद विजयसिंह की मौत हो गई। वहीं ब्रह्मप्रकाश की हालत गंभीर है लेकिन खतरे से बाहर बताई गई है।

गांव में पुलिस बल तैनात

घटना की जानकारी मिलने के बाद बावल डीएसपी राजेश कुमार और कसौला थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह सहित अन्य पुलिस अधिकारी निजी अस्पताल में पहुंचे और घटना की जानकारी ली। फिलहाल पुलिस ने मृतक विजयसिंह के पिता की शिकायत पर चार लोगों पर हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। वहीं घटना के बाद पुलिस अफसरों ने गांव में पहुंच घटनास्थल का जायजा लेकर आवश्यक जानकारी ली। गांव में भी पुलिस बल तैनात कर दिया है। मामले में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सीआईए को भी लगाया गया है।

पारिवारिक विवाद में हुई है हत्या, जल्द होगी गिरफ्तारी

कसौला थाना क्षेत्र में हुई इस घटना में प्रारंभिक जांच में शनिवार को पारिवारिक विवाद की बात सामने आई है। दुलीचंद और उनकी पत्नी का अपने पुत्रों से विवाद चल रहा है। बीचबचाव करने के दौरान ही यह घटना हो गई। फिलहाल मामले में हत्या का केस दर्ज करके आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए हैं। -अभिषेक जोरवाल, एसपी।

खबरें और भी हैं...