वैश्य समाज मे भारी आक्रोश:उकलाना में राजीव जैन के साथ की गई अभद्रता बर्दाश्त नहीं करेगा वैश्य समाज : नवीन मित्तल

रेवाड़ी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • घटना के बाद से पूरे हरियाणा के वैश्य समाज मे भारी आक्रोश

किसान आंदोलन की आड़ में असामाजिक तत्वों द्वारा उकलाना में हरियाणा प्रदेश वैश्य महासम्मेलन के प्रदेश अध्यक्ष राजीव जैन के साथ की गई बदसलूकी से पूरे हरियाणा के वैश्य समाज मे भारी आक्रोश है। इसलिए सरकार से मांग है कि ऐसे शरारती तत्वों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

एक प्रैस विज्ञप्ति के माध्यम से हरियाणा प्रदेश वैश्य महासम्मेलन के जिला अध्यक्ष नवीन मित्तल व व्यापारी नेता नरेश चेयरमैन ने कहा कि किसान अपनी मांगों के लिए शांतिपूर्वक आंदोलन करें परन्तु उकलाना में महाराजा अग्रसेन जयंती तथा संगठन को मजबूत करने के लिए की बैठक करने आये प्रदेश अध्यक्ष राजीव जैन की गाड़ी के शीशे तोड़ कर जानलेवा हमला करना घोर निंदनीय है, उन पर हमला करना वैश्य समाज का अपमान करना है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग किसानों के नाम पर और ही इरादे लेकर काम कर रहे हैं।

दोनों नेताओं ने कहा कि अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करना हर किसी का संवैधानिक अधिकार है परंतु प्रदर्शन की आड़ में हिंसा, तोड़फोड़ करना, रोज-रोज रास्ते जाम करना, एक पार्टी के नेताओं को टारगेट कर बेइज्जत करने की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि उधर हिसार के विधायक कमल गुप्ता को भी किसानों द्वारा बंधक बनाकर बेइज्जत किया गया जिससे समाज के लोगों में भारी रोष है।

उन्होंने कहा कि किसानों के नाम को बदनाम कर इन असामाजिक तत्वों ने सारी हदें पार कर दी है जिससे समाज का भाईचारा खत्म हो रहा है और जातिगत दुश्मनी को बल मिल रहा है इसलिए सही किसानों के प्रति भी लोग नफरत से देखने लगे है संगठन के लोगों को इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है और ऐसे लोगों के खिलाफ किसान संगठनों ने जबरदस्त कार्यवाही करनी चाहिए। यदि किसान संगठन में ऐसे शरारती तत्वों को संरक्षण देना बंद नहीं किया तो मजबूरन विवश होकर हमें भी सड़कों पर उतरना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...