पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रशासन की लापरवाही:रेवाड़ी शहर में गड्ढों से आपका स्वागत है...मगर संभलकर चलें क्योंकि टूटी सड़कों पर हादसे के लिए सवारी स्वयं जिम्मेदार है

रेवाड़ी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जर्जर हाल झज्जर रोड, जहां वाहन चलाना मुश्किलों भरा है। - Dainik Bhaskar
जर्जर हाल झज्जर रोड, जहां वाहन चलाना मुश्किलों भरा है।
  • शहर की 5 सड़कें, जो 3 सालों से तकलीफ दे रही हैं, मगर अधिकारी ठीक नहीं कराते
  • सीएम अनाउसमेंट के 10 करोड़ रुपए थे वे भी 3 साल में कहीं नहीं लगा पाए
  • तुलाराम पार्क के आगे की सड़क के लिए स्वीकृति तो मिली लेकिन 3 महीने में भी इसका काम नहीं हुआ

शहर की सड़कें चलने लायक नहीं है। इनमें बने गड्ढों को भरने के लिए प्रशासन के पास अभी कोई खास तैयारी भी नहीं है। हां, हर बार की तरह इस बार भी अधिकारी जल्द ही सड़कों की हालत सुधारने की बात जरूर कह रहे हैं।

शहर के अंदर की महत्वपूर्ण सड़कों में से 5 सड़कों पर नजर दौड़ाएंगे तो सिस्टम के गड्ढे आसानी से नजर आ जाएंगे। शहर की लाइफलाइन सरकुलर रोड पर बावल चौक के निकट ही सीसी रोड टूटकर कुछ इंच नीचे धंस गई है, मगर इसका समाधान कोई नहीं।

शहर के महाराणा प्रताप चौक से नेहरु पार्क के सामने से भाड़ावास रोड को जोड़ने वाली सड़क सालों से इसी हालत में है। नाईवाली चौक से राव तुलाराम पार्क के सामने से होते हुए रेलवे स्टेशन की ओर जाने वाली सड़क भी खस्ताहाल है। इसके अलावा 02 सड़कें सबसे अधिक परेशानी बनी हुई है। महाराणा प्रताप चौक से सचिवालय को जोड़ने वाली सबसे प्रमुख सड़कों में से एक बावल रोड और रेवाड़ी-झज्जर वाया बीकानेर सड़क तो चलना मुश्किल रहता है।

ये हैं शहर की प्रमुख सड़कें, यहां से जिले के आला अधिकारी भी अकसर गुजरते हैं...

रेवाड़ी-झज्जर रोड : एनएच-71 बना तो इस रोड को ही भूले
शहर के झज्जर चौक से गोकलगढ़, बीकानेर होते हुए एनएच-71 को जोड़ने वाली यह करीब 8 किलोमीटर की यह सड़क टूटकर बिखर चुकी है। कई जगह तो रेत जमे होने के चलते सड़क नजर नहीं आती। सड़क में गड्ढे झज्जर चौक से ही शुरू हो जाते हैं, जो कि लगभग आखिरी छोर तक बने हुए हैं। एनएच-71 बनने के बाद इस रोड की सुध ही नहीं ली है।

बावल रोड : एनएचएआई का खानापूर्ति कर पैचवर्क हुआ
शहर के सरकुलर रोड से महाराणा प्रताप चौक होते हुए सचिवालय को जोड़ने वाली महत्वपूर्ण बावल रोड की हालत कब सुधरेगी, ये खुद अधिकारी भी ठीक-ठीक नहीं बता सकते। जब मुख्यमंत्री जैसे बड़े कद के नेता आते हैं तो यहां तुरंत पैचवर्क की रोड़ियां डाल दी जाती हैं। बाकी समय रोड गड्ढों में तब्दील रहती है। दबाव बढ़ता है तो कभी कभार खानापूर्ति का पैचवर्क जरूर होता है।

अनाजमंडी रोड : अधिकारियों ने कभी दिलचस्पी ही नहीं ली
महाराणा प्रताप चौक के निकट ही नेहरु पार्क और नई अनाज मंडी भी है। यहां से भाड़ावास रोड को जोड़ती इस सड़क को बनाने में कभी अधिकारियों ने दिलचस्पी ही नहीं दिखाई। लंबे समय तक तो जिले के अधिकारी यही बहस करते रहे कि यह सड़क किसकी जिम्मेदारी में आती है। अब नगर परिषद इसका प्रस्ताव बनाने के दावे कर रही है जिससे वह सड़क बना सके।

सरकुलर रोड : पेयजल लाइन लीकेज से पूरी तरह टूटी है रोड
शहर के सरकुलर रोड की हालत बावल चौक के निकट खस्ताहाल हो रही है। 20 साल तक सड़क चलने के दावे थे, मगर यह हिस्सा टूटकर नीचे धंस गया है। वजह बताई जा रही है कि रोड के नीचे पेयजल लाइन लीकेज है। अब पेयजल लाइन यहां के विभाग देखेंगे, मगर रोड एनएचएआई के दायरे में है। इसलिए काम नहीं हो रहा जिसकी वजह से लोग परेशान हो रहे हैं।

तुलाराम पार्क रोड : मंजूरी मिली, बननी बाकी, पर कब?
शहर के नाईवाली चौक स्थित तुलाराम पार्क के सामने से गुजर रही सड़क की हालत ज्यादा ही खराब है। रेलवे स्टेशन और ऑटो मार्केट को जोड़ने वाली यह महत्वपूर्ण सड़क है। नप ईओ अभय सिंह यादव का दावा है कि यह सड़क मंजूर हो चुकी है। अब इसका निर्माण शुरू होना बाकी है, लेकिन कब होगा इसका शहरवासियों को इंतजार है।

3 विभाग बेपरवाह, शहर की सड़कें चलने लायक नहीं
इन सड़कों की अलग-अलग जिम्मेदारी नगर परिषद, लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) संभाल रहें हैं। अच्छा खासा दबाव आता है तो एनएचएआई बावल रोड पर मरम्मत का काम कर देती है, वरना हालात खराब रहते हैं। लोक निर्माण विभाग और नगर परिषद भी शहरी क्षेत्र में अपनी सड़कों की दशा नहीं सुधार पा रहे। लगातार शिकायतें के बाद भी समाधान नहीं निकले।

पहले बरसात फिर चुनाव बना बहाना, और अब ?
लंबे समय से अधिकारी दूसरे कामों की व्यवस्था या फिर भी बरसात की अड़चन का हवाला देते आए हैं। पहले बरसाती मौसम होने के चलते सड़कों का निर्माण नहीं हो पाया। अब पिछले महीने में नगर परिषद के चुनावों में आचार संहिता और व्यस्तता में सड़कों की बात तक नहीं हुई। मगर अब अधिकारियों के पास किसी तरह का बहाना नहीं है। इसलिए स्थानीय लोग मांग कर रहे हैं कि सड़कों का निर्माण जल्द कराएं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser