पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहर में 15 बूस्टिंग स्टेशन:विभाग से आरटीआई में इनकी सफाई की जानकारी मांगी तो जवाब मिला ‘पता नहीं’

रेवाड़ी10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरटीआई एक्टिविस्ट ने मांगी थी जानकारी, अब उपायुक्त को दी गई शिकायत

शहर में बूस्टिंग स्टेशनों की सफाई को लेकर जनस्वास्थ्य विभाग की तरफ से जो जानकारी दी गई है वह चौंकाने वाली है। सूचना के अधिकारी अधिनियम के तहत जब इनकी सफाई की तिथि एवं नियमों के बारे में जानकारी ली तो विभाग की तरफ से जवाब दिया गया है कि पता नहीं इनकी सफाई कब की गई है। यदि यह वास्वतिक सच है तो विभाग की यह लापरवाही लोगों के स्वास्थ्य पर कभी भी भारी पड़ सकती है।

कोई रिकाॅर्ड नहीं होना बताया, आरोप- कई मोहल्लों में गंदा पानी
शहर के मोहल्ला छीपटवाड़ा निवासी आरटीआई कार्यकर्ता साकेत धींगड़ा ने मार्च माह में सूचना अधिनियम के तहत जनस्वास्थ्य विभाग से यह जानकारी मांगी थी कि शहर में कितने बूस्टिंग स्टेशन और जलघर है?, इनकी कब सफाई हुई थी?, सफाई के लिए क्या नियम है और इसका रिकार्ड रखा जाता है ? इसकी जानकारी के जवाब में विभाग की तरफ से जो जवाब भेजा गया है वह भी काफी चौंकाने वाला है। विभाग के पास इनकी सफाई से संबंधित कोई रजिस्टर अथवा रिकार्ड नहीं होता है। इतना ही नहीं विभाग के अधिकारियों को यह भी नहीं पता है कि इन 15 बूस्टिंग स्टेशनों के अलावा 5 जलघरों की सफाई कब की गई थी। विभाग की तरफ से कहा गया है कि इनका कोई समय नहीं होता है।
बूस्टिंग स्टेशनों की काफी समय से नहीं हुई सफाई
आरटीआई से मिले जवाब के बाद साकेत धींगड़ा ने इसको लेकर उपायुक्त को शिकायत देकर बताया कि पिछले काफी समय से शहर के बूस्टिंग स्टेशनों की सफाई नहीं की गई है। उन्होंने बताया कि सफाई के अभाव में शहर के कई मोहल्लों में काफी समय से दूषित पानी की भी सप्लाई होती है। धारूहेड़ा चुंगी बूस्टिंग स्टेशन से बड़ा क्षेत्र जुड़ा है जिसकी सफाई आवश्यक है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें