पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नियम:भूरे लाल कमेटी ने एनजीटी को सौंपी रिपोर्ट, जिगजैग तकनीकी वाले ईंट भट्ठों व साधारण तकनीक से संचालित भट्ठों पर लगी है रोक

सांपला5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने एनसीआर के 13 जिलों में करीब 3500 ईंट भट्ठों पर 6 जनवरी तक रोक लगा दी है। गुरुवार को ईटीसी की तरफ से ईपीसीए (एनवायरमेंट पॉल्यूशन कंट्रोल अथॉरिटी) के अध्यक्ष डॉ. भूरे लाल की कमेटी ने अपनी रिपोर्ट एनजीटी को सौंप दी। अब अगली सुनवाई 6 जनवरी को होगी। पिछले वर्ष 15 नंवबर से ईंट भट्ठों के संचालन पर प्रतिबंध लगा है।

ये प्रतिबंध जिगजैग तकनीकी से संचालित होने वाले ईंट भट्ठों के अलावा साधारण तकनीक पर संचालित होने वाले भट्ठों पर लगा है। एनसीआर में आने वाले 13 जिलों में से 9 हरियाणा व 4 यूपी के हैं। हरियाणा में सबसे ज्यादा ईंट भट्ठे झज्जर जिले में 390 तो रेवाड़ी में 92 हैं। झज्जर जिले का बादली व रोहतक का हसनगढ़ ईंट भट्ठों का हरियाणा में गढ़ माना जाता है।

ईंट भट्ठों पर प्रतिबंध लगा होने के कारण ईंटों का भाव भी आसमान पर है। हालांकि सरकार की तरफ से अव्वल ईंट का रेट रोहतक में 5200 रुपए प्रति हजार तय है, लेकिन ईंट भट्ठों पर प्रतिबंध के चलते आम आदमी को करीब 5800 से 6000 प्रति हजार देना पड़ रहा है, जबकि ईंट भट्ठों पर स्टॉक में कोई कमी नजर नहीं आ रही है। प्रतिबंध में एनजीटी की तरफ से राहत मिलती हैै तो ईंटों का भाव कम होने से आम आदमी को भी फायदा होगा।

जनवरी में चल सकते हैं भट्ठे
हरियाणा भट्ठा एसोसिएशन के उपप्रधान अनुप दहिया ने बताया कि एनसीआर में आने वाले प्रदेश के 13 जिलों के करीब 3500 ईंट भट्ठे एनजीटी के आदेश पर बंद हैं। हालांकि एनसीआर के ज्यादातर ईंट भट्ठों पर जिगजैग तकनीकी का इस्तेमाल होता है। ईंट भट्ठा एसोसिएशन को उम्मीद हैै कि एनजीटी जनवरी माह में भट्ठा संचालित करने की अनुमति दे सकती है। इससे ईंटों का भाव तो कम होगा ही बल्कि हजारों लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

ये होता है भट्‌ठों पर काम
ईंट भट्ठों पर कई चरणों में काम होता है। पहले चरण में ईंट बनाने के लिए मिट्टी खनन। इसके बाद ईंट बनाने, ईंट पकाने के लिए भट्ठे में लगाने से लेकर राख से ढकने तक पर प्रतिबंध लगाया गया है। प्रतिबंध साधारण व जिगजैग तकनीकी से संचालित ईंट भट्ठों पर भी लगाया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें