• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sirsa
  • Sidhu Moosewala Murder Sandeep Kekra, Resident Of Kalanwali Sirsa, Informed The Sharp Shooter Of Moosewala, Kinship

केकड़ा का कालांवाली स्तब्ध:मूसेवाला के गांव में मौसी का घर होने से गैंगस्टर्स ने रेकी के लिए चुना; पिता बेटी के लिए परेशान

सिरसा4 महीने पहले

फेमस पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में हरियाणा के सिरसा के संदीप उर्फ केकड़ा की गिरफ्तारी से पूरा कालांवाली गांव स्तब्ध है। पिता बलदेव सिंह को चिंता सता रही है कि इतनी बदनामी के बाद अब वो अपने छोटी बेटी का रिश्ता कैसे कर पाएंगे। केकड़ा ने पिता को भी मारपीट कर घर से निकाल दिया था। मूसेवाला गांव में केकड़ा की मौसी रहती है, वहीं साथ लगते गांव रामदत्ता में उसकी बहन शादीशुदा है। इसलिए वहां उसका आना जाना लगा रहता था। पड़ोसी गुरप्रीत सिंह का कहना है कि वो चिट्‌टे का नशा करता था। ऐसा काम करेगा, उनको विश्वास नहीं था।

बता दें कि सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या में सिरसा के गांव कालांवाली निवासी संदीप उर्फ केकड़ा का रोल बड़ा अहम रहा है। उसकी मुखबिरी (रेकी) के बाद ही शार्प शूटर्स ने सिद्धू मूसेवाला को रास्ते में घेर कर गोलियां बरसा कर मार डाला। केकड़ा की गिरफ्तारी की सूचना उसके गांव कालांवाली पहुंची तो परिजनों के साथ ग्रामीण भी स्तब्ध रह गए। पंजाब पुलिस के बार बार गांव में दबिश देने से ग्रामीणों में दहशत भी है। डर इस बात का है कि कहीं पुलिस के निशाने पर वे लोग न आ जाएं, जिनके साथ केकड़ा का उठना बैठना था।

पत्रकारों से बातचीत करते संदीप उर्फ केकड़ा के पिता बलदेव सिंह।
पत्रकारों से बातचीत करते संदीप उर्फ केकड़ा के पिता बलदेव सिंह।

मूसेवाला में थी रिश्तेदारी

केकड़ा के बारे में जो जानकारी सामने आ रही है, उसमें पता चलता है कि अभी तक उसका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा है, लेकिन नशे का आदी होने के कारण काफी समय से वह अपराध की दुनिया में लिप्त युवकों से जुड़ा हुआ था। उसके बारे में पूरी जानकारी पता होने के बाद ही सिद्धू मूसेवाला की रेकी के काम में उसे उतारा गया।

असल में मूसेवाला गांव में केकड़ा की मौसी रहती है, वहीं मूसेवाला के साथ लगते गांव रामदत्ता में उसकी बहन शादीशुदा है। इस वजह से उसका दोनों की गांवों में आना जाना लगा रहा था और रिश्तेदारी होने के कारण कोई शक भी नहीं करता था। वह हत्यावाले दिन करीब 45 मिनट तक मूसेवाला के साथ साथ रहा था और सेल्फी भी ली। मूसेवाला बाहर निकला तो उसकी सूचना उसकी हत्या की तैयारी में बैठे शार्प शूटर्स तक पहुंचा दी। मूसेवाला के घर के बाहर लगे CCTV में उसकी मूवमेंट कैद हुई, जिससे पुलिस उसके पास पहुंची।

कालांवाली में केकड़ा का घर।
कालांवाली में केकड़ा का घर।

पिता को निकाला था घर से बाहर

केकड़ा के पिता बलदेव सिंह ने बेटे की गिरफ्तारी के बाद कहा कि वह नशे का आदी है। उसके साथ झगड़ा करता था और घर से निकाल रखा है। वह 10 -12 दिन पहले घर आया था, उसके बाद अब मानसा में पुलिस द्वारा पकड़े जाने का पता चला। पुलिस कई दिनों से गांव में दबिश दे रही थी। मुझे छोटी लड़की की शादी भी करनी है, अब चिंता है कि परिवार की बदनामी होने के बाद बेटी का रिश्ता कैसे हो पाएगा।

मां की हो चुकी है मौत

संदीप उर्फ केकड़ा के पड़ोसी गुरप्रीत सिंह का कहना है कि केकड़ा पहले तो ऐसा नहीं था। उसका परिवार बेहद गरीब है। वह उनके साथ ही मजदूरी करता था। संदीप इन्हीं दिनों चिट्टे का नशा करने लगा था। उसके परिवार में पिता के साथ दो भाई और दो बहनें हैं। केकड़ा की माता की मौत हो चुकी है। वो ऐसा काम यह करेगा लगता नहीं था।

खबरें और भी हैं...