पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

साइबर ठग:महिला के बैंक खाते से निकाले ‌2.76 लाख रूपए , जींद, रोहतक व करनाल के एटीएम से निकाले पैसे

राई13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जठेड़ी गांव में अपने मायके में रह रही सीआरपीएफ जवान की पत्नी के बैंक खाते से साइबर ठगों ने 2.76 लाख रुपए निकाल लिए। महिला जब बैंक में पैसे निकालने गई तो उन्हें ठगी का पता लगा। आरोपियों ने रोहतक, जींद व करनाल के एटीएम से पैसे निकाले हैं। राई थाना पुलिस ने महिला के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है।

जठेड़ी निवासी पिंकी हटवाल ने राई थाना पुलिस को शिकायत दी कि उनके पति मनोज हटवाल सीआरपीएफ में एएसआई के पद पर है। फिलहाल उनके पति की नियुक्ति छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में है। वह अपने मायके जठेड़ी में रहती। उनका बैंक खाता एचडीएफसी बैंक में है। वह 2 अगस्त को अपनी ससुराल पानीपत के गांव सिठाना गई थी। उसने अपने देवर को 5 अगस्त को अपना एटीएम देकर तीन हजार रुपए निकालने भेजा था।

उस समय उसके खाते में 2,85,599 रुपए थे। उसका देवर पानीपत स्थित रामलाल चौक के एटीएम से पैसे निकालकर लाया था। उसके बाद वह एटीएम लेकर जठेड़ी आ गई। 24 अगस्त को वह एटीएम से 10 हजार रुपए निकालने गई तो उसे पता लगा कि एटीएम कार्ड बंद है। उसने बैंक में जाकर जानकारी ली तो पता लगा कि खाते में 61 सौ रुपए हैं। उसके खाते से अलग-अलग समय में 2.76 लाख रुपए निकालने की जानकारी मिली। राई थाना के एसएचओ बिजेंद्र सिंह ने बताया कि महिला की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है।

मोबाइल नंबर बंद होने से नहीं मिले बैंक के मैसेज

महिला पिंकी ने बताया कि बैंक में खाता की जांच कराई गई तो खाते से 6 अगस्त को रोहतक में 50 हजार रुपए 7 अगस्त को जींद के से 25 हजार रुपए, 13 अगस्त को रोहतक से 50 हजार व 14 को 25 हजार रुपए, 16 अगस्त को करनाल से 50 हजार रुपए, 18 अगस्त को जींद से 26 हजार रुपए व 19 अगस्त को करनाल से 50 हजार रुपए निकाले। महिला ने बताया कि उसके पास तमिलनाडु का मोबाइल नंबर है। जिसे बैंक खाते दर्ज कराया गया था। 1 मई को उसके कोरोना संक्रमित होने के चलते वह उस मोबाइल नंबर को रिचार्ज नहीं करवा सकी। जिसके चलते वह बंद हो गया। इसी कारण उसके पास पैसे निकालने का मैसेज नहीं आया।

खबरें और भी हैं...