पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान विरोध:7 जगह चक्का जाम, 50 की बजाय 60 किमी दूरी तय कर पहुंचे रोहतक

गोहानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोहाना. रोहतक-पानीपत हाईवे पर एंबुलेंस को निकलवाते किसान। - Dainik Bhaskar
गोहाना. रोहतक-पानीपत हाईवे पर एंबुलेंस को निकलवाते किसान।
  • रोडवेज बसें नहीं चलीं, पुलिस ने रूट डायवर्ट कर निकाले वाहन

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने शनिवार को तीन घंटे तक नेशनल और स्टेट हाईवे जाम किए। ट्रैक्टर-ट्राली सड़क के बीचों-बीच खड़ी करके किसान सड़क पर बैठ गए। नेशनल हाईवे को पूरी तरह से जाम करने के लिए किसानों ने छह स्थानों पर जाम लगाया था। प्रशासन ने चक्का जाम के दौरान वाहनों को डायवर्ट किया। पानीपत से आए वाहन चालकों को रोहतक तक पहुंचने के लिए 50 किमी की बजाए करीब 60 किमी की दूरी तय करनी पड़ी।

किसानों ने दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक रोड जाम करने की घोषणा की थी। किसानों ने रोहतक-पानीपत हाईवे पर मुंडलाना, सैनीपुरा, भैंसवान खुर्द चौक, सोनीपत-जींद हाईवे पर नूरन खेड़ा, बुटाना और लाठ-जौली चौक पर जाम लगाया। मदीना मोड पर किसानों ने जाम लगाकर महम रोड को जाम किया। इसके अलावा कुछ स्थानों पर किसानों ने सड़कों पर आकर जाम लगाया।

प्रशासन ने वाहनों को डायवर्ट करने के लिए 16 स्थानों पर नाका लगाकर वहां पर पुलिस कर्मियों को नियुक्त किए गए थे। वाहनों को ग्रामीण रूट पर डायवर्ट किया हुआ था। जिन पर किसानों ने जाम लगाए थे, वहां पर पुलिस कर्मियों को नियुक्त किया गया था। भैंसवान खुर्द चौक पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट एसडीओ सुमेर मलिक और एचएसओ बदन सिंह की ड्यूटी लगाई गई थी। किसानों ने सड़क पर जाम लगाकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।

किसानों ने स्कूली वाहन व एंबुलेंस को दिया रास्ता

भैंसवान खुर्द चौक पर चक्का जाम के दौरान कोई वाहन नहीं गुजर सके, इसके लिए ट्रैक्टर-ट्राली सड़क पर खड़ी की हुई थी। पीजीआई रोहतक जाने व वहां से आने वाली एंबुलेंस को गुजरने दिया। आसपास गांव में स्थित स्कूली वाहन को भी किसानों ने जाने का रास्ता दिया। इसके अलावा अन्य वाहनों को वहां से गुजरने नहीं दिया।

सड़क टूटी होने से वाहन चालक हुए परेशान

रोहतक आने-जाने के लिए हाईवे से शामडी, खानपुर कलां, गोहाना, खरखौदा, भैंसवाल कलां से भालौठ का रूट बनाया था। पुलिस द्वारा जाम लगने से पहले ही वाहनों को डायवर्ट करना शुरू कर दिया था। शामड़ी-खानपुर रोड की हालत जर्जर है। खानपुर-गोहाना रोड भी जगह-जगह से टूटा हुआ है। दूरी बढ़ने और सड़क टूटी होने के कारण वाहनों चालकों का अपने गंतव्य तक पहुंचने में समय भी अधिक लगा।

भैंसवान चौक पर महिलाओंं ने लगाया जाम

भैंसवान खुर्द चौक पर गांव की महिलाएं भी पहुंची। दोपहर को महिलाओं की संख्या कम रही। इसे देखकर महिलाओं ने माइक संभाला और घर से बाहर निकलकर आंदोलन में जुड़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह समय घर पर बैठने का नहीं है। खेती बचाने के लिए घर से निकलकर संघर्ष करने का है। इसलिए घर से बाहर निकले। करीब एक घंटा बाद महिलाओं की संख्या बढ़ी गई।

किसान बोले : सरकार किसानों पर जबरन थोप रही कृषि कानून | कृषि कानूनों पर धरने पर बैठे किसानों ने कहा कि सरकार कानूनों को जबरन थोप रही है। कृषि कानून किसान हित में नहीं है। लेकिन मंत्री कृषि कानूनों को किसान हित में बता रही है। यदि कानून किसान हित में है तो सरकार के मंत्री और विधायक किसानों के बीच आकर बात करें। उन्होंने कहा कि कानून बड़ी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए बनाए हैं।

रोडवेज बंद होने से निजी वाहनों वसूला मनमाना किराया

जाम के चलते रोडवेज की बस में दोपहर बाद 3:00 बजे तक बंद रही। गंतव्य तक पहुंचने के लिए यात्रियों को बसों का कई घंटे इंतजार करना पड़ा। यात्री बार-बार अधिकारियों से बसें चलने के बारे में पूछताछ करते रहे। रोडवेज के गोहाना सब डिपो में 33 बसें शामिल हैं। किसान आंदोलन के चलते किलोमीटर स्कीम की बसें शुक्रवार को ही बंद कर दी गई थी। किसानों ने दोपहर 12:00 बजे से चक्का जाम कर दिया। रोडवेज अधिकारियों ने बसों को दोपहर 12:00 बजे से पहले तक ही निर्धारित रूटों पर भेजा।

रोड जाम की सूचना मिलने पर अधिकारियों ने बसों का संचालन बंद करवा दिया। बसें नहीं चलने से यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ी। बस अड्डा से केवल प्राइवेट बसें ही चली। जाम के चलते प्राइवेट बस प्रशासन द्वारा डाइवर्ट किए गए रूटों से होकर गई। इससे यात्रियों को 30 से 40 किलोमीटर का अतिरिक्त चक्कर लगाना पड़ा। अतिरिक्त चक्कर लगने पर बस परिचालकों ने यात्रियों से किराया भी अधिक लिया।

सुरक्षा के लिए बंद की थी बसें : डीआई

किसानों ने सभी मुख्य सड़कों को जाम किया हुआ था। जाम के चलते बसों की सुरक्षा के लिए 3 घंटे के लिए संचालन बंद किया था। जाम खुलने के बाद बसों को निर्धारित रूटों पर भेज दिया गया
रमेश, डीआई, बस अड्डा, गोहाना।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें