स्वास्थ्य विभाग ने निजी स्कूलों से भी मांगा डेटा:अवकाश के बावजूद 200 विद्यार्थियों को स्कूल में बुलाकर लगाई वैक्सीन

गोहाना21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाते स्वास्थ्य कर्मी। - Dainik Bhaskar
विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाते स्वास्थ्य कर्मी।

स्कूलों में विद्यार्थियों को कोरोना महामारी से बचने के लिए वैक्सीन लगाई जाएगी। गुरुवार को राजकीय स्कूल गढ़ी उजाले खा में 200 विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाई गई। शिक्षा की गाइडलाइन के अनुसार छुट्टी होने के बावजूद भी शिक्षक विद्यार्थियों को स्कूल में बुलाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं।

शिक्षा अधिकारियों के अनुसार उपमंडल के सरकारी स्कूलों के 9972 विद्यार्थियों को वैक्सीन लगेगी। कोरोना महामारी के नए वैरिएंट ओमिक्राॅन के मामले बढ़ने शुरू हो चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग ने महामारी पर नियंत्रण के लिए सैंपलिंग और वैक्सीनेशन बढ़ा दी है। सरकार की गाइडलाइन के अनुसार 15 से 18 वर्ष आयु के बच्चों को वैक्सीन की डोज लगाई जानी है।

इस आयु वर्ग के अधिकांश बच्चे विद्यार्थी हैं। महामारी के कारण सरकार ने शिक्षण संस्थानों को बंद करवा दिया है। विद्यार्थियों को महामारी से बचाने के लिए शिक्षा विभाग ने शिक्षकों को विद्यार्थियों को स्कूल में बुलाकर डोज लगवाने की अनुमति दी है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा राजकीय स्कूल गढ़ी उजाले खा में कैंप लगाया गया।

खबरें और भी हैं...