पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

यह पैसे की बर्बादी नहीं तो क्या है ?:पहले लगे कैमरों को बिजली नहीं, फिर नए कैमरे लगाने की तैयारी

गोहानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोहाना, छोटूराम चौक पर लगा सीसीटीवी कैमरा। - Dainik Bhaskar
गोहाना, छोटूराम चौक पर लगा सीसीटीवी कैमरा।

शहर में चौकों पर लगाए गए सीसीटीवी कैमरों की अधिकारियों ने सुध नहीं ली। कैमरों के लिए बिजली सप्लाई तक की व्यवस्था नहीं थी। कैमरे लगाने का फायदा पुलिस प्रशासन को भी नहीं मिला। नगर परिषद की अब फिर से शहर के प्रत्येक चौक पर नए कैमरे लगाने की योजना है।

जल्द ही पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग करके स्थान और लोकेशन चिन्हित की जाएगी। शहर में करीब पांच वर्ष पहले प्रशासन ने विभिन्न चौकों पर सीसीटीवी कैमरे लगाएं थे। कैमरों को थाना में जोड़ने की योजना था। ताकि थाना प्रभारी मोबाइल पर ऑनलाइन कैमरे के माध्यम से नजर रख सकें। कैमरे लगाने के बाद अधिकारियों ने उनकी सुध नहीं ली।

कैमरे की फुटेज कहां पर देखी, अधिकारियों ने इसकी भी व्यवस्था नहीं की। कैमरे को बिजली सप्लाई नहीं मिलने के कारण कैमरे शोपीस बनकर रह गए। जिसके कारण पुलिस को कैमरे लगाने का फायदा नहीं मिला। शहर में पिछले कुछ दिनों चोरी व लूट की वारदातें होने के कारण पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने की योजना बनाई थी।

जिसके अंतर्गत शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाएं जाएंगे। नगर परिषद कैमरे लगाकर पुलिस को सौंपेगी। ताकि पुलिस कैमरों की मदद से असामाजिक तत्वों पर नजर रख सके।

शहर के एंट्री पॉइंट और अंदर के प्रमुख रोड पर लगेंगे

कैमरे कहां पर लगाने पर फायदा होगा, ऐसे प्वाइंट पुलिस और नप अधिकारी मीटिंग में निर्धारित करेंगे। योजना के अनुसार शहर के एंट्री प्वाइंट, प्रमुख रोड पर टी-प्वाइंट और संवेदनशील क्षेत्र में कैमरे लगाएं जाएंगे। अधिकारी के अनुसार उच्च गुणवत्ता के कैमरे लगाएं जाएंगे। जिससे कैमरे के दायरे में आने पर रात के समय भी व्यक्ति या गाड़ी का नंबर दिखाई दे सके। अधिकारियों का मानना है कि कैमरे की गुणवत्ता अच्छी होगी, तभी कैमरे लगाने का फायदा पुलिस को मिल सकेगा।

अपराध रोकने में मदद करते हैं सीसीटीवी कैमरे

थाना शहर प्रभारी सवित कुमार का कहना है कि घटना के बाद आरोपी की पहचान करने में कैमरे की फुटेज से काफी मदद मिलती है। इसलिए मार्केट एसोसिएशन के साथ मीटिंग करके उन्हें दुकानों में कैमरे लगाने की अपील की जाती है। उन्होंने कहा कि कैमरे रात को भी चालू रखने चाहिए। इससे घटना होने के बाद आरोपी की पहचान करने में मदद मिलती है।

नई पहल : कैमरे लगाकर पुलिस को सौंपे जाएंगे

शहर में प्रत्येक चौक, पार्क में कैमरे लगाने की योजना है। मुख्यालय से मंजूरी मिलने के बाद कैमरे लगाने का कार्य शुरू करा दिया जाएगा। जो भी कैमरे लगाएं जाएंगे, वे पुलिस को सौंपे जाएंगे। ताकि पुलिस कैमरे के माध्यम से असामाजिक तत्वों तक पहुंच सकें। कंट्रोल रूम में पुलिस अपनी सुविधा के अनुसार ही बनाएगी- राजेश वर्मा, ईओ, नगर परिषद, गोहाना।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें