मकर संक्रांति पर छाया घना कोहरा:सुबह 6 से 11 बजे तक जीटी रोड कोहरे की चादर में लिपटा रहा

राई8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोहरे के बीच जीटी रोड से निकलते वाहन। - Dainik Bhaskar
कोहरे के बीच जीटी रोड से निकलते वाहन।

जीटी रोड पर मकर संक्रांति के दिन शुक्रवार अल सुबह शुरू हुआ कोहरा दोपहर 11 बजे तक छाया रहा । वाहन चालकों को वाहन चलाने में परेशानी हुई। 11:30 बजे के बाद कोहरा छंटना शुरू हुआ। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहा। शुक्रवार अल सुबह दो बजे तक तक मौसम साफ था। दो बजे रात को अचानक कोहरे की दस्तक शुरु हुई। सुबह 6 बजे तक आसमान में घना कोहरा छा गया। घने कोहरे और हल्की हवा चलने की वजह से मौसम बेहद ठंडा रहा।

दृश्यता कम रहने की वजह से वाहन चालकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। जीटी रोड पर वाहन 20 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गुजरते नजर आए। जीटी रोड विस्तारीकरण की वजह से जगह- जगह जाम की समस्या भी रही। दोपहर 12 बजे के बाद कोहरा छटा। कोहरे और हवा का असर तापमान पर भी देखने को मिला।

राई थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार, मुरथल थाना प्रभारी सुमित कुमार , कुंडली थाना प्रभारी रवि कुमार व जिला यातायात थाना प्रभारी राजबीर सिंह ने कहा कि कोहरे के दौरान हादसे होने की संभावना अधिक होती है। ऐसे में चालक को संभलकर वाहन चलाना चाहिए। यातायात के नियमों का पालन करें। ओवरलोड से बचे। यदि रात के समय ड्राइवरी कर रहे हैं तो नींद की झपकी आने से पहले की किसी ढाबा या पेट्रोल पंप पर गाड़ी को रोक दें। हाइवे पर पुलिस पेट्रोलिंग व एंबुलेंस की सुविधा दी गई है। किसी प्रकार का हादसा होने पर तुरंत नजदीक के थाना या पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दें। जिससे तुरंत सहायता दी जा सके।

जीटी रोड पर कार सर्विस रोड के गड्ढे में उतरी, तीन सवारी बाल- बाल बची
जीटी रोड पर राजीव गांधी एजुकेशन सिटी से लेकर बीसवां मिल चौक तक एनएचएआई ने सर्विस रोड के लिए खुदाई कर रखी है। यहां बेरिकेड्स नही होने की वजह से सुबह एक कार गड्‌ढे में उतर गई। कार में दिल्ली के नांगलोई निवासी उमेश कुमार, उनकी पत्नी निधि व बेटी तमन्या थी। चालक उमेश ने बताया कि कोहरे की वजह से उनकी कार गड्ढे में उतर गई थी। गनीमत रही कि किसी को चोट नही लगी।

खबरें और भी हैं...