पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस की छापेमारी:नकली रेपर लगाकर डाक पार्सल की गाड़ियों में यूपी भेजनी थी अवैध शराब, 590 पेटियां पकड़ी

गोहाना18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपियों ने खरखौदा के पास से केएमपी पर चढ़कर यूपी में पहुंचने की बनाई थी योजना

यूपी में नकली शराब सप्लाई करने के लिए फर्जी कागजात तैयार किए। शराब की बोतलों पर नकली रेपर लगाया। पुलिस को शक नहीं हो, आरोपियों ने गाड़ी पर डाक पार्सल लिखवाया। आरोपियों ने केएमपी से होते हुए यूपी जाना था। इसलिए वे खरखौदा की तरफ जा रहे थे। पुलिस को इसकी भनक लग गई और रास्ते में ही आरोपियों को दबोच लिया। पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से दो गाड़ियों में भरी करीब 590 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद की है।

थाना सदर, गोहाना प्रभारी करमजीत के अनुसार पुलिस ने आरोपी सुनील निवासी रभड़ा और अमित निवासी गिवाना जिला सोनीपत को पूछताछ के लिए पुलिस से एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अवैध शराब चंडीगढ़ से लेकर आए थे और यूपी में सप्लाई करनी थी। इसलिए उन्होंने फर्जी कागजात तैयार किए हुए थे। टीम द्वारा रोकने पर आरोपियों ने फर्जी कागजात दिखाएं, लेकिन इसका पता पुलिस टीम को लग गया और आरोपियों को दबोच लिया।

भैंसवाल मोड के पास 370 पेटी शराब पकड़ी

सदर थाना गोहाना में नियुक्त एसआई सतबीर सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम भैंसवाल कलां गांव के पास गश्त कर रही थी। सूचना मिली कि एक कैंटर में अवैध शराब भरी हुई है। कैंटर भैंसवाल मोड से गुजरने वाला है। जैसे ही कैंटर नाका से गुजरने लगा तो टीम ने रोक लिया। चालक ने अपनी पहचान सुनील निवासी रभड़ा के रूप में दी। कैंटर की जांच करने पर उसमें करीब 370 पेटी अवैध अंग्रेजी शराब मिली। पुलिस ने कैंटर को अपने कब्जे में ले लिया।

बडौता गांव के पास पकड़ी 220 पेटी शराब

थाना में नियुक्त एएसआई जगबीर सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम बड़ौता गांव के पास गश्त कर रही थी। टीम को सूचना मिली कि पिकअप गाड़ी में अवैध शराब भरी हुई है। सूचना पर पुलिस ने बड़ौता गांव के पास नाका लगा दिया। जैसे ही गाड़ी वहां से गुजरने लगी तो पुलिस ने रोक लिया। चालक ने अपनी पहचान अमित निवासी गिवाना जिला सोनीपत के रूप में दी। गाड़ी की जांच करने पर उसमें 220 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद की।

यूपी में कहां पर शराब लेकर पहुंचना है, आनी थी कॉल

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि चंडीगढ़ से यूपी जाना था। सोनीपत पहुंचने के बाद उनके पास कॉल आनी थी कि उन्हें यूपी में कहां पर और किसके पास शराब पहुंचानी है। जीटी रोड पर किसान बैठे हुए हैं। इसलिए उन्होंने खरखौदा से केएमपी से होते हुए यूपी जाने की प्लानिंग की थी। उन्हें कॉल का इंतजार था, ताकि वे रात को केएमपी पर चढ़कर यूपी पहुंच सकें।

खबरें और भी हैं...