राइट टू सर्विस एक्ट:मूमेंट रजिस्टर बताएगा कर्मी कितने दिन से बैठा हुआ है फाइल दबाकर

गोहानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राइट टू सर्विस एक्ट के तहत प्रत्येक कार्य निर्धारित समय कराने के लिए नप कार्यालय की प्रत्येक ब्रांच में नई व्यवस्था शुरू की है। कार्य की फाइल ब्रांच में पहुंचने और वहां से दूसरे ब्रांच या अधिकारी के पास जाने की तिथि मूवमेंट रजिस्टर में दर्ज करनी होगी। मूवमेंट रजिस्टर ही बताएगा कि किस ब्रांच में कितने से दिन से फाइल लटकी हुई थी। एक्ट के निर्धारित समय पर कार्य पूरा नहीं होने पर संबंधित कर्मचारी को कारण बताओ नोटिस जारी करके जवाब मांगा जाएगा। शहरी स्थानीय निकाय विभाग ने प्रत्येक कार्य करने का समय निर्धारित किया हुआ है। इससे लोगों को कार्य कराने के लिए बार-बार चक्कर नहीं लगाने पड़े। निर्धारित समयावधि में लोगों के कार्य हो, इसके लिए नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी राजेश वर्मा ने प्रत्येक ब्रांच में मूवमेंट रजिस्टर लगवाया है। प्रत्येक कर्मचारी का अपना रजिस्टर होगा। कौन की फाइल कब उसके पास होगी। वह उसमें दर्ज करेगा। वहीं, जिस ब्रांच से फाइल आई, उसकी तिथि भी वहां के रजिस्टर में दर्ज होगी।

देरी करने पर कर्मचारी को देना होगा जवाब : ईओ
लोगों को बेहतर सेवाएं देना ही विभाग की जिम्मेदारी है। इसलिए कार्यालय में नई व्यवस्था लागू की गई है। जो भी आवेदन आएगा, यदि किसी सीट पर कार्य लंबित है तो रजिस्टर में देखने पर पता चल जाएगा कितने दिन से कर्मचारियों ने फाइल आगे नहीं बढ़ाई। उससे जवाब मांगा जाएगा। जवाब संतुष्ट नहीं होने पर उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।
राजेश वर्मा, ईओ, नगर परिषद, गोहाना

खबरें और भी हैं...