पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बरोदा उपचुनाव:न जुलूस और न ही गाड़ियों का काफिला, साधारण तरीके से लोसुपा सुप्रीमो राजकुमार सैनी सहित 4 ने किया नामांकन

गोहाना8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नामांकन का आज अंतिम दिन, भाजपा, कांग्रेस व इनेलो प्रत्याशी आज करेंगे नामांकन

कोरोना काल में बरोदा विधानसभा का उपचुनाव कराया जा रहा है। नामांकन पत्र जमा कराने के दौरान प्रत्याशियों ने न तो जुलूस निकालकर शक्ति प्रदर्शन किया और न ही गाड़ियों का काफिला लेकर चुनाव कार्यालय में पहुंचे। प्रत्याशी कार्यकर्ताओं के साथ दो गाड़ियों में बैठकर कार्यालय पहुंचे और नामांकन पत्र जमा कराया। गुरुवार को लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के सुप्रीमो राजकुमार सैनी सहित चार प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र जमा कराया।

नामांकन पत्र 16 अक्टूबर को तीन बजे तक जमा होंगे। गुरूवार को पीपुल्स पार्टी ऑफ इंडिया डेमोक्रेटिक से पानीपत जिला के पाथरी निवासी सुमित पुत्र सुभाषचंद्र, निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में बरोदा गांव के डॉ.जोगेंद्र मोर पुत्र बीरसिंह और सोनीपत जिला के हरसाना गांव निवासी संत धर्मबीर चोटीवाला ने भी नामांकन किया है। अब तक करीब 6 प्रत्याशियों ने सात नामांकन पत्र जमा कराएं है।

सैनी ने गोहाना में लड़ा था चुनाव

भाजपा से अलग होने के बाद राजकुमार सैनी ने लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी का गठन किया था। पार्टी की तरफ से 2019 में गोहाना विधानसभा चुनाव लड़ा था। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी जगबीर मलिक को टक्कर दी थी। जगबीर मलिक को 39531, लोसपा के प्रत्याशी राजकुमार सैनी को 35379 और भाजपा के प्रत्याशी तीर्थराणा को 26972 वोट मिले थे। अब सैनी बरोदा उपचुनाव मैदान में उतरे हैं। उनके आने से किसका समीकरण बनेगा और किसका बिगड़ेगा, यह 10 नवंबर को ही पता चलेगा।

जींद उपचुनाव में प्रत्याशी को खरीदकर ले गए थे : सैनी

सैनी ने स्वयं चुनाव मैदान में उतरने के सवाल पर कहा कि पार्टी में कई मजबूत प्रत्याशी है, लेकिन चुनाव में पार्टियां धन बल का प्रयोग करती है। 2019 में जींद उपचुनाव में पार्टी के प्रत्याशी को खरीद ले गए थे। इसे देखते हुए उन्होंने स्वयं ही चुनाव मैदान में उतरने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि बरोदा हलका विकास के मामले में पिछड़ा हुआ है। इसके लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों ही जिम्मेदार है। हलके में लोगों को पीने का पानी तक नहीं मिल रहा। पेयजल सप्लाई आने पर ग्रामीण सभा से उठकर चले जाते हैं। युवाओं के पास रोजगार नहीं है। गांवों में पानी निकासी की व्यवस्था नहीं है। लोसपा सभी को आगे बढ़ने का अवसर दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रही है।

सबसे पढ़े लिखे हैं डॉ.जोगेंद्र

अब तक छह प्रत्याशियों ने नामांकन पत्र जमा कराए हैं। इनमें से डॉ.जोगेंद्र मोर सबसे अधिक पढ़े लिखे हैं। उन्होंने लॉ में पीएचडी की हुई है। इनके अलावा रमेश खत्री, दीक्षित खत्री, सुमित पुत्र सुभाषचंद्र और संत धर्मबीर ने एलएलबी की हुई है। वहीं राजकुमार सैनी बीए पास हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें