पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोहाना:चार बसों की कंडम होने की अवधि कम बचने पर अधिकारी नहीं करवा रहे इंश्योरेंस

गोहाना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गोहाना. बस अड्‌डा परिसर में खड़ी रोडवेज की कंडम बसें। - Dainik Bhaskar
गोहाना. बस अड्‌डा परिसर में खड़ी रोडवेज की कंडम बसें।

रोडवेज के गोहाना सब-डिपो की चार बसों का इंश्योरेंस खत्म हो गया। चारों ही बसें जनवरी माह में कंडम होनी हैं। बसों के कंडम होने की अवधि कम रहने पर अधिकारियों ने इन बसों का इंश्योरेंस नहीं करवाया। इंश्योरेंस नहीं होने पर अधिकारियों ने इन बसों को अड्‌डा परिसर में खड़ा करवा दिया है। मुख्यालय ने भी इन बसों को रूटों पर नहीं भेजने के आदेश जारी कर दिए हैं। चारों बसें लोकल रूटों पर चलती थी। लोकल रूटों पर बसों का संख्या कम होने लगी है। इससे यात्रियों को प्राइवेट वाहनों पर निर्भर रहना पड़ रहा है।

सब-डिपो के बेड़े में 36 बसें शामिल हैं। किसान आंदोलन के चलते अधिकारी इन बसों का लोकल रूटों पर संचालन करवा रहे हैं। बीते दिनों से बेड़े में शामिल चार बसों का इंश्योरेंस खत्म हो गया। बसों का इंश्योरेंस जिला मुख्यालय स्तर पर करवाया जाता है। मुख्यालय ने इन बसों का दोबारा इंश्योरेंस नहीं करवाया। अधिकारियों के अनुसार इन बसों का 12 जनवरी को कार्यकाल पूर्ण हो जाएगा। कार्यकाल पूर्ण होने पर इन बसों को कंडम घोषित कर दिया जाएगा।

समय अवधि कम होने के चलते मुख्यालय ने बसों का इंश्योरेंस नहीं करवाया। बिना इंश्योरेंस के अधिकारियों ने भी कंडम होने तक इन बसों को रूटों पर भेजना बंद कर दिया। यात्री प्रवीन, दीपक, शीला, स्नेहा, निर्मला का कहना है कि लोकल रूटों पर बसों की संख्या कम हो गई है। बस अड्‌डा पर उन्हें काफी देर तक बसों का इंतजार करना पड़ता है। इससे उनका समय व्यर्थ होता है। दूसरा कोई विकल्प नहीं होने के चलते उन्हें परेशानी हो रही है।

रोडवेज के बेड़े में बसों की संख्या कम होने पर मुख्यालय ने किलोमीटर स्कीम की 14 बसें सब-डिपो में भेजी हुई हैं। इन बसों को लंबे रूटों पर ही चलाया जा रहा था। किसान आंदोलन के चलते दिल्ली और अजमेर रूट बंद है। लंबे रूट बंद होने के चलते किलोमीटर स्कीम की बसों का संचालन भी सही ढंग से नहीं हो रहा है। अधिकारियों के अनुसार किलोमीटर स्कीम की केवल सात बसों का ही संचालन करवाया जा रहा है। इन बसों को भिवानी, चंडीगढ आदि रूटों पर भेजा जा रहा है।

रोहतक और पानीपत रूट पर चलती थी बसें

रोडवेज अधिकारियों के अनुसार जिन बसों का इंश्योरेंस खत्म हो गया है, उन बसों का संचालन रोहतक और पानीपत रूट पर करवाया जाता था। इन रूटों के साथ-साथ ही इन बसों को ग्रामीण रूटों पर भी भेज दिया जाता था। चार बसें बंद होने से बेड़े में अब बसों की संख्या केवल 32 रह गई है। बसों की लगातार कम हो रही संख्या से यात्रियों को परेशानी हो रही है।

12 जनवरी को कंडम हो जाएंगी चार बसें

सब-डिपो की चार बसों का इंश्योरेंस खत्म हो चुका है। ये बसें 12 जनवरी को कंडम हो जाएंगी। कंडम अवधि कम होने पर मुख्यालय ने इन बसों का इंश्योरेंस नहीं करवाया। मुख्यालय को कंडम होने वाली बसों की जानकारी भेज दी है। -रमेश, डीआई, सब-डिपो, गोहाना।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser