जितेंद्र हत्याकांड मामला:शराब पीने के बाद हुआ था विवाद, गाली देने पर डंडे और ईंट मारकर की थी हत्या

गोहाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से खुली ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी

भैंसवाल कलां गांव के जितेंद्र की हत्या मामले में एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने सोमवार को घटना का खुलासा कर दिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि शराब पीने के बाद गाली-गलौज करने पर विवाद बढ़ गया था। दोनों भाइयों ने मिलकर उसकी डंडे व ईंट से हमला करके हत्या की थी। बाद में आरोपी की पत्नी ने डंडे को जला दिया। पुलिस ने महिला को सबूत नष्ट करने की धारा में गिरफ्तार किया है। महिला को मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर जेल भेज दिया। वहीं, आरोपी नीरज और अजय निवासी भैंसवाल कलां को कोर्ट ने जेल भेज दिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि जितेंद्र शराब पीता था। उसका नीरज के साथ उठना-बैठना था। शुक्रवार रात को भी दोनों ने बैठकर शराब पी थी। नशे में जितेंद्र ने गाली गलौज करनी शुरू कर दी। जिसे देख नीरज घर पर चला गया। उसके पीछे-पीछे वह भी गाली-गलौच करता घर पर पहुंच गया। नीरज और अजय उसे घर से बाहर ले आए। उन्होंने उस पर डंडे और ईंटों से हमला कर दिया। बाद में उसके सड़क के पास ही फेंक दिया। ज्ञात हो कि जितेंद्र का शव शनिवार सुबह लाठ मोड के पास पड़ा हुआ मिला था। उसके सिर के पिछले हिस्से और चेहरे पर चोट के निशान थे। पुलिस ने मृतक के चाचा राजबीर की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया था।

डंडा घर पर ले गए तो पत्नी ने जलाकर नष्ट किया सबूत, तीनों गिरफ्तार
पुलिस के लिए ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझानी एक चुनौती थी, क्योंकि परिजनों ने न तो किसी पर शक जताया था और न ही किसी के साथ कोई झगड़ा होना बताया था। सदर थाना गोहाना प्रभारी विवेक मलिक के अनुसार प्रारंभिक जांच में पाया कि जितेंद्र रात को दुकान से दूध और बिस्कुट लेकर आया था। गांव के दुकानदारों से इसकी जानकारी जुटाई। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखी। एक फुटेज में जितेंद्र और नीरज एक साथ दिखे। शक के आधार पर नीरज से पूछताछ की तो उसने घटना का खुलासा किया। इसके बाद उसके भाई और पत्नी को भी गिरफ्तार कर लिया।
घटनास्थल से कुछ दूरी पर फेंकी ईंट बरामद
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि घटना में प्रयोग किया गया डंडा घर पर ही ले गए थे। रात को ही अजय की पत्नी ने उसे जला दिया। जिससे पुलिस को डंडा नहीं मिले, लेकिन जितेंद्र पर वार करने पर डंडे का एक हिस्सा टूटकर घटनास्थल पर ही गिर गया था। जिसे पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर बरामद कर लिया।

खबरें और भी हैं...