खरखौदा शराब चोरी मामला / एएसआई जयपाल ने माना जसबीर के कहने पर शराब चोरी करने लिए गाड़ियों की एंट्री गोदाम में करवाई थी

फाइल फोटो फाइल फोटो
X
फाइल फोटोफाइल फोटो

  • एएसआई कोर्ट में पेश, एक दिन की पुलिस रिमांड

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:07 AM IST

सोनीपत. सील गोदाम से 5696 शराब की पेटियां शराब चोरी कर बेचने के मामले छापे में पकड़ी गई शराब को कम करके दिखाने का भी खेल हुआ है। इस मामले में गिरफ्तार एएसआई जयपाल ने एसआईटी को बताया कि उसने बर्खास्त एसएचओ जसबीर के कहने पर ही गोदाम से शराब चुराने के लिए भूपेंद्र की गाड़ियों की इंट्री कराई थी। शनिवार को एसआईटी ने जयपाल को कोर्ट में पेश कर तीन दिन की रिमांड की मांग की लेकिन कोर्ट ने एक रिमांड दी है। इस मामले में अभी बर्खास्त एसएचओ जसबीर व भूपेंद्र के भाई जितेंद्र पुलिस की पकड़ से दूर हैं।
जितेंद्र ने मांगी अग्रिम जमानत, फैसला 27 को

आरोपी भूपेंद्र के भाई जितेंद्र ने अग्रिम जमानत के लिए कोर्ट में याचिका दायर की है। शनिवार को सुनवाई के बाद कोर्ट ने 27 मई तक फैसला सुरक्षित रखा है। भूपेंद्र ठेकेदार की जमानत पर फैसला इसी दिन होगा 

ईडी की जमानत के लिए डिटेल भेजी
इंस्पेक्टर नरेंद्र ने बताया कि भूपेंद्र की संपत्तियों की जांच कराने को एसपी ने ईडी को उसकी प्रॉपर्टी की डिटेल, एफआईआर की कॉपी भेजी है। आरोपी का एक स्कूल,मंडी में आढ़त, ईंट भट्ठा, दो लग्जरी कार, गोदाम है। स्कूल मां के नाम से है। उससे 97 लाख रुपए और कुछ आभूषण मिले हैं। भूपेंद्र ने बताया था कि ये रुपए लॉकडाउन में चोरी की शराब बेचकर कमाए हैं 

^ईडी को भूपेंद्र की प्रॉपर्टी की डिटेल व उसके खिलाफ दर्ज सभी एफआईआर की कॉपी भेजी है। ताकि ईडी की जांच जल्दी ही शुरू हो सके। एएसआई जयपाल से भी पूछताछ की जा रही है। -जश्नदीप रन्धावा, एसपी सोनीपत।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना