पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonipat
  • Blood Was Scattered In Three Rooms, Sangeeta Struggled A Lot, There Were Bruises On Her Hands, She Was Screamed After Seeing Son Manjar In The Morning.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

क्राइम:तीन कमरों में बिखरा था खून, संगीता ने खूब किया संघर्ष, हाथों पर थे चोट के निशान, सुबह बेटा मंजर देख चीख पड़ा

सोनीपत14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महिला संगीता के शव को अस्पताल के शव गृह लेकर पहुंची एम्बुलेंस। - Dainik Bhaskar
महिला संगीता के शव को अस्पताल के शव गृह लेकर पहुंची एम्बुलेंस।
  • पिता के हाथ से दूध पीकर सोया था बेटा, सुबह नींद खुली तो आंखों के सामने जल रहा था पिता, कमरे में पड़ा था मां का खून से लथपथ शव

शहर की छोटूराम कॉलोनी में बुधवार देर रात हुई वारदात का मंजर जिसने भी देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए। तीन जगह पर खून बिखरा हुआ था। मृतका संगीत शव अंदर कमरे में चारपाई पर पड़ा था। संगीता के हाथों पर भी चोट के निशान हैं। मौके वारदात का सीन देखने से लग रहा था कि संगीता ने मरने से पहले हमलावर के साथ जमकर संघर्ष किया।

लेकिन उसकी छाती पर किए वार से वह कुछ नहीं कर सकी। जबकि पति बाहर जला हुआ जिंदगी से लड़ रहा था। मां व पिता के साथ रह रहे दस वर्षीय बेटे हर्ष की आंख खुली तो पिता को जलते हुए देखा और मां का शव कमरें में पड़ा था।

सुबह साढ़े 6 बजे इनका बेटा हर्ष पेशाब करने कमरे से बाहर निकला तो बाहर पिता को जली हुई हालत में देखकर चीख पड़ा। हर्ष रात को दूसरे कमरे में सोया हुआ था। हर्ष ने बताया कि पिता ने ही रात को उसे दूध पिलाकर सुलाया था। सुबह हर्ष ने कमरे में अपनी मां को देखा तो वह दम तोड़ चुकी थी। इसके बाद उसने मदद के लिए आवाज लगाई। पड़ोसियों व हर्ष ने पानी डालकर आग बुझाई।

जले हुए व्यक्ति अवधेश को अस्पताल पहुंचाया। लेकिन करीब 90 प्रतिशत झु़लस चुके व्यक्ति ने पीजीआई रोहतक में दम तोड़ दिया। पुुुलिस ने मौके पर सब्जी काटने का चाकू बरामद किया। पुलिस ने फिलहाल मामले में आरोपी पति, उसके भाई, भतीजे, बहनोई पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है। हालांकि पुलिस पता कर रही है कि मृतका के पति के अलावा अन्य तीन सोनीपत इनके किराये के मकान पर आए भी थे या नहीं।

महिला की हत्या की वजह जमीन या कुछ और जांच में जुटी पुलिस

मृतका की मां देवेंद्री ने आरोप लगाया आरोपी अवधेश ने अपनी गांव की जमीन अपने सगे भाई राकेश को कृषि करने के लिए दे रखी थी। बेटी संगीता ने इस पर एतराज जताया था। बेटी ने अपने पति अवधेश को कहा था कि गांव के जमीन अपने भाई को न दे। राकेश समय पर उगाही के पैसे नहीं देता था। यह बात राकेश को पता लगी तो वह उसकी बेटी संगीता से चिड़ने लगा था।

जबकि आरोपी दामाद अवधेश भी अपने भाई राकेश का साथ देता था। आरोपी अवधेश दो- तीन दिन से अपने भाई राकेश के पास यूपी गया हुआ था। 17 अगस्त की रात को इसी बात की रंजिश के चलते आरोपी दामाद अवधेश अपने भाई राकेश, भतीजे गोलू, बहनोई कुलदीप के साथ सोनीपत छोटूराम कालोनी स्थित अपने किराये के मकान पर पहुंचा ओर बेटी की हत्या की।

लेकिन पुलिस इस स्टोरी के साथ पता कर रही कि राकेश, गोलू व कुलदीप सोनीपत आए भी थे या नहीं। परिजनों के अनुसार हर्ष ने बताया बुधवार रात करीब 10 बजे वह घर पर पढ़ाई कर रहा था। उस समय ताऊ राकेश, गोलू व कुलदीप आए थे। पापा अवधेश ने उसे दूध पिलाया था। इसके बाद वह सो गया था।

बाइक से निकाला पेट्रोल, फिर लगाई आग

जिस मकान में वारदात हुई वहां एक बाइक खड़ी है। बाइक के पास खून गिरा हुआ था। जबकि पेट्रोल भी निकला हुआ है। ऐसे में मृतका के भाई ने शक जताया कि इस बाइक से तेल निकालकर आग लगाई गई। पुलिस ने इसको लेकर भी जांच शुरू की है। पति अवधेश द्वारा खुद को आग लगाने के बाद घर भी दीवारों पर धुएं से कालापन आ गया।

राकेश के कपड़े-हेलमेट मकान में ही मिले
मृतका की मां देवेंद्री, बेटे हर्ष, भाई जसबीर ने आरोप लगाया कि आरोपी राकेश रात को वारदात के बाद से फरार है। आरोपी राकेश के कपड़े, सामान व हेलमेट मकान में ही मिले हैं। इसको लेकर भी जांच की मांग की।

मृतक महिला के हैं चार बच्चे

आरोपी अवधेश पेशे से ट्रक ड्राइवर है। आग से जलने के कारण आरोपी हालत गम्भीर बनी हुई है। आरोपी की 4 संतान हैं। बडी बेटी मानसी, इसे छोटी वंशिका, इसके बाद विसाका व सबसे छोटा हर्ष उर्फ नैतिक है। बड़ी बेटी मानसी शादीशुदा है। जबकि वंशिका 12वीं कक्षा व विसाका 10वीं कक्षा में दिल्ली के स्कूल में पढ़ रहे हैं। जबकि हर्ष उर्फ नैतिक जो करीब 10 साल का वह सोनीपत शहर के निजी स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ रहा है।

एक महीने पहले पांच लाख मांगने का आरोप

मृतका संगीता की मां देवेंद्र ने घटनास्थल पर बिलखते हुए हाथ जोड़कर कहा कि उन्हें इंसाफ चाहिए। देवेंद्र ने बताया कि एक महीने पहले वह बेटी संगीता के किराये के मकान पर आई थी। यहां दामाद अवधेश ने उससे पांच लाख रुपए देने को कहा था। उसने मना कर दिया था। आरोपी कह रहा था कि उसे खुद की गाड़ी लेनी है।

आरोपी को उसने कहा था कि उसके पास इतनी रकम नहीं है। इस पर आरोपी ने मकान बेचकर रकम देने को कहा। आरोपी बेटी संगीता पर भी दबाव बना रहा था। मृतका की बड़ी बेटी मानसी ने कहा कि मां संगीता ने फोन पर उसे करीब 30 हजार रुपए घर पर होने की बात बताई थी। वारदात के बाद यह रकम भी नहीं मिली।

पहले रहते थे दिल्ली में

मृतका के भाई जसबीर ने बताया कि पहले बहन व उसका परिवार दिल्ली में रहते थे। 6 महीने पहले ही छोटूराम कालोनी में रहने लगी थी। भांजी वंशिका व विसाका एग्जाम नजदीक होने के कारण दिल्ली में ही रह रहे थे। बहन संगीता के पास सोनीपत में भांजा हर्ष ही रह रहा था।

मृतका की मां देवेंद्र की शिकायत पर अवधेश, राकेश, गाेलू व कुलदीप पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है। पता किया जा रहा कि राकेश, गोलू व कुलदीप सोनीपत आए भी थे या नहीं। अवधेश ने भी पीजीआई रोहतक में दमतोड़ दिया है। - रामकुमार, गोहाना रोड चौकी इंचार्ज।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें