पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonipat
  • Drugs Are Not Stopping In The Corona Infection, Youth In The Stadium Gather In The Name Of Practice, They Are Taken From Alcohol, Banned Drugs Are Consumed, After The Gate Is Closed, They Jump And Enter Inside.

नशे का खेल:कोरोना संक्रमण में भी नहीं थम रहा स्टेडियम में नशा, अभ्यास के नाम पर जुटते हैं युवा, शराब से लेकर किया जाता है प्रतिबंधित दवाओं का सेवन, गेट बंद होने के बाद उसपर कूदकर अंदर होते हैं दाखिल

सोनीपत4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोनीपत. सेक्टर चार स्टेडियम में गेट बंद होने के बावजूद गेट से कूदकर स्टेडियम के अंदर होते हैं दाखिल।

कभी सोनीपत के लिए खेलों में सबसे बड़े मैदान के रूप में विख्यात हुआ सेक्टर चार स्टेडियम के हालात कोरोना संक्रमण काल में भी नहीं सुधर सके हैं। अभी जहां मैदानों में खिलाड़ियों की ओर से जमघट लगाने पर रोक है, लेकिन यहां ऐसा बिल्कुल नहीं है। यहां बिना किसी अनुमति के ही युवा खेल अभ्यास के नाम पर पहुंच रहे हैँ। आरोप है कि अभ्यास के नाम पर कुछ युवा प्रतिबंधित दवाओं का सेवन करते हैं रोके जाने पर धमकी दी जाती है। खेल विभाग के पास इस संदर्भ में लगातार शिकायते पहुंच रही है। जिसके मद्देनजर अब विभाग की ओर से पुलिस को शिकायत कर दी है।

30 एकड़ में बने स्टेडियम में बुनियादी सुविधाएं भी नहीं
एचएसवीपी विभाग द्वारा लगभग 5 वर्ष पहले इस स्टेडियम को लगभग तैयार कर दिया गया था, लेकिन आज तक यह स्टेडियम खेल विभाग को हैंडओवर नहीं हो सका है, क्यांेकि स्टेडियम में बुनियादी सुविधाओं की आज तक कमी है, जिसमें पेयजल से लेकर धूप से बचाव को लेकर व्यवस्था है। खिलाड़ियों व लोगों के लिए बनाए गए बैंच तक यहां पर टूट गए हैं। एथलेटिक्स ट्रैक तक प्रभावित हो रहा हैं। 

स्टेडियम असामाजिक तत्वों का बना अड्‌डा

यह स्टेडियम असामाजिक तत्वों का अड्डा बनता जा रहा है। आज स्टेडियम में खिलाड़ी और खेल का सामान नहीं बल्कि स्थान- स्थान पर शराब की बोतले और अन्य गंदगी दिखाई देती है। खेल के मैदान में झाडियां उगी हुई है। बच्चो के बैठने के लिए बनाये गए बेच लगातार टूट रहे है। स्टेडियम के अंदर बनाये गए टॉयलेट, चेंजिंग रूम पर ताले लगे रहते है। अधिकारी और कर्मचारी के नाम पर सिर्फ एक चौकीदार वहां पर नियुक्त है।

सीधी बात : निर्मला गुलिया, डीएसओ सोनीपत

सवाल. लॉक डाउन के बावजूद सेक्टर चार स्टेडियम में आवाजाही पर रोक क्यों नहीं है जवाब. वहां हमारा कोई कोच भी नहीं है, लेकिन फिर भी लोग नहीं मान रहे हैं। सवाल. सामाजिक दूरी व मास्क तक का उपयोग नहीं किया जा रहा है। जवाब. लोगों को खुद अपनी सेहत का ख्याल रखना होगा, सामाजिक दूरी व सेनेटाइजर का उपयोग भी करना चाहिए। सवाल. बताया गया है कि यहां अभ्यास के नाम पर प्रतिबंधित दवाओं का सेवन किया जाता है जवाब. इस बारे में हमें भी शिकायत मिली है, विभाग की टीम ने पहुंचकर लोगों को जागरूक भी किया था, अब दोबारा से शिकायत मिलने पर एसपी को पत्र  लिखकर नियमित गश्त की मांग की गई है। सवाल. स्टेडियम को आखिर तक खेल विभाग ने अपने कब्जे में क्यों नहीं लिया? जवाब. इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया जा सका है। उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया है।

बिना किसी अनुमति के निजी कोच करवाते हैं अभ्यास

इस स्टेडियम में बिना प्रशासन अनुमति के ही निजी कोच अपने लाभ के लिए अभ्यास करवाते हैं, इस दौरान तय मानक का ध्यान रखा जा रहा है, यह तक स्पष्ट नहीं है। खुद खेल विभाग के कोच तक वहां नहीं जाते। 

स्टेडियम में अभ्यास को लेकर यह हैं डीसी के आदेश

^ कोरोना व्यक्तिगत खेल के लिए 10 खिलाड़ी व टीम गेम के लिए 18 खिलाड़ी ही प्रशिक्षण केंद्र के अंदर आएंगे। किसी भी खिलाड़ी के साथ अभिभावक, दर्शकों को आने की अनुमति नहीं होगी। खिलाड़ी मास्क व सेनेटाईजर सहित प्रशिक्षण केंद्र में आना सुनिश्चित करेंगे। इसके साथ ही खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण हेतु अभिभावकों से सहमति पत्र लेकर प्रशिक्षक के पास जमा करवाना होगा। यदि कोई खिलाड़ी प्रशिक्षण केंद्र में किसी भी प्रकार की दुर्घटना या कोविड-19 से संक्रमित हो जाता है तो इसके लिए वह स्वयं जिम्मेदार होगा। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण का समय प्रात: 6:00 बजे से 8:00 बजे व सांय 5:00 बजे से 7:00 बजे होगा। इसमें प्रात: व सांय एक-एक घंटे की दो शिफ्ट लगा कर खिलाडिय़ों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षण समय के उपरांत कोई भी खिलाड़ी प्रशिक्षण केंद्र (स्टेडियम) में नहीं रहेंगे। -श्यामलाल पूनिया, डीसी, सोनीपत।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें