पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonipat
  • Karan Chautala Reached The Horoscope Border With His Tractor And Farmers, Taking Out The Tractor March From Sonepat.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:करण चौटाला अपने ट्रैक्टर व किसानों के साथ सोनीपत से ट्रैक्टर मार्च निकालते हुए कुंडली बॉर्डर पर पहुंची

सोनीपतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गोहाना . बातचीत करते इनेलो के युवा महासचिव कर्ण चौटाला। - Dainik Bhaskar
गोहाना . बातचीत करते इनेलो के युवा महासचिव कर्ण चौटाला।
  • सोनीपत में छोटूराम की प्रतिमा पर पुष्प किए अर्पित

इंडियन नेशनल लोकदल के युवा प्रदेश प्रभारी करण चौटाला अपने ट्रैक्टर और किसानों के साथ सोनीपत से ट्रैक्टर मार्च निकालते हुए सिंघू बॉर्डर पर पहुंचे। सोनीपत में उन्होंने सर छोटूराम की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए।

चौटाला ने कहा कि तीन कृषि कानून किसानों के हित में नहीं है। इसी वजह से लगातार करीब दो महीने से किसान बॉर्डर पर धरना दे रहे हैं। पिनाना गांव के युवाओं ने गांव से सिंघू बॉर्डर तक मैराथन निकाली। इस मौके पर उनके साथ इनेलो जिला अध्यक्ष कृष्ण मलिक, लीगल सेल के जिला अध्यक्ष बालकिशन शर्मा, युवा जिला अध्यक्ष कुणाल गहलावत, जिला प्रवक्ता फूल कुमार चौहान, विनोद चौहान, खरखौदा अध्यक्ष अशोक राणा, गोहाना अध्यक्ष जोगिंदर मलिक, आशीष सुहाग, विकास मलिक आदि मौजूद रहे।

आंदोलन की वजह से आ रही दिक्कतों को लेकर उपायुक्त को देंगे ज्ञापन

गांव भैरा बाकी पुर में रविवार को कई लोगों ने बैठक कर किसान आंदोलन की वजह से सामने आ रही परेशानियों पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि सब्जी उत्पादन करने वाले किसान ,काम धंधा करने वाले व्यवसायी, व दिल्ली आने जाने वाले नौकरी पेशा आदमी सभी परेशान हैं। मंगलवार 19 जनवरी को डीसी और एसपी साहब को ज्ञापन दिया जाएगा। बैठक में गांव अटेरना से चरण सिंह, गांव भैरा से जय राम मास्टर, सतीश खटकड़, योगेश सेरसा, मोनू,जाटी, जसवीर खुरमपुर, नरेश मनौली, प्रवीण कुमार जाटी, अमित कुमार एडवोकेट आदि मौजूद रहे।

घर बैठकर बयानबाजी करने से किसान हितैषी नहीं बन सकते : कर्ण चौटाला

गोहाना | इनेलो की ट्रैक्टर यात्रा रविवार सुबह को कुंडली बॉर्डर के लिए रवाना हुई। इनेलो के युवा महासचिव कर्ण चौटाला ने कहा कि कृषि के तीन कानूनों के खिलाफ किसान धरने पर बैठे हुए हैं। किसान किसी नेता को अपने बीच खड़ा होने की इजाजत नहीं देंगे। जो भी नेता किसानों के सच्चे हितैषी है, वे विधायक और सांसद पद से इस्तीफा देकर उनके बीच जाए। केवल घर पर बैठकर बयानबाजी करने से किसान हितैषी नहीं बन सकते। चौटाला रविवार को खानपुर रोड पर स्थित स्कूल में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि गणतंत्र दिवस पर निकलने वाली ट्रैक्टर यात्रा से एक दिन पहले उनके पिता अभय, वे स्वयं और उनके भाई अर्जुन चौटाला अलग-अलग बॉर्डरों पर किसानों के बीच पहुंचेंगे

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें