• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonipat
  • Life Imprisonment For 4 Including Mother, Maternal Uncle And Maternal Uncle's Brother For Killing A Young Man At Gahana Bus Stand

फैसला:गाेहाना बस स्टैंड पर युवक की हत्या करने पर मां, मामी व मामी के भाई सहित 4 काे उम्र कैद

सोनीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5-5 हजार रुपए जुर्माना न देने पर 6 माह अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी

अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ. संजीव आर्य की अदालत ने युवक की हत्या के मामले की सुनवाई करते हुए युवक की मां, मामी व मामी के भाई समेत चार आरोपियों को दोषी करार दिया है। चारों दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। महिला ने बताया था कि उसका बेटा से शराब के नशे में प्रताडि़त करता था।

झज्जर के गांव बेरी के राहुल (21) की 14 फरवरी, 2016 को गोहाना में नए बस स्टैंड के सामने दिनदहाड़े अज्ञात युवक ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। राहुल के भाई रोहित ने अपने गांव के ही ओमप्रकाश पर उसके भाई की हत्या की साजिश की आशंका जताई थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर विभिन्न पहलुओं को लेकर जांच की थी।

मामले में तत्कालीन थाना प्रभारी कुलदीप देशवाल की टीम ने महज सात-आठ घंटे के अंदर ही मामले का पटाक्षेप कर दिया था और चौंकाने वाले तथ्य सामने आए थे। राहुल की हत्या की साजिश किसी और ने नहीं बल्कि उसकी सगी मां कमलेश ने ही अपनी भाभी शीला के साथ मिलकर रची थी। पुलिस पूछताछ में कमलेश ने बताया था कि उसका बेटा शराब पीकर अक्सर उसके साथ मारपीट करता था।

कमलेश ने अपनी भाभी गांव फरमाणा निवासी शीला से अपने बेटे राहुल को मरवाने की बातचीत की थी। शीला ने अपने भाई गांव उदेशीपुर निवासी धर्मबीर से इस संबंध में बातचीत की थी। धर्मबीर ने राहुल को मरवाने के लिए गांव पांची जाटान के बदमाश कृष्ण से एक लाख रुपये में सौदा तय किया था।

पुलिस ने घटना की रात ही कमलेश व शीला को गिरफ्तार कर लिया था। उसके एक दिन बाद धर्मबीर को भी गिरफ्तार कर लिया था। उसके बाद सुपारी लेकर हत्या करने के आरोपी कृष्ण उर्फ जसबीर उर्फ धोला को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।

मंगलवार को मामले की सुनवाई करते हुए एएसजे डॉ. संजीव आर्य की अदालत ने हत्या का षड्यंत्र रचने की दोषी कमलेश, उसकी भाभी शीला व शीला के भाई धर्मबीर को उम्रकैद व 5-5 हजार रुपये जुर्माना तथा हत्या के दोषी कृष्ण उर्फ जसबीर उर्फ धोला को उम्रकैद व 5 हजार जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न देने पर 6 माह अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी।

खबरें और भी हैं...