पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लॉकडाउन की टाइमिंग में राहत:कच्चे क्वार्टर व कपड़ा मार्केट में ऑड-ईवन की दिक्कत, लेफ्ट-राइट आधार पर खुल रहे बाजार

सोनीपत22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अन्य दिनों में पहले इस तरह हो रही थी बाजारों में भीड़। - Dainik Bhaskar
अन्य दिनों में पहले इस तरह हो रही थी बाजारों में भीड़।
  • व्यापार मंडल ने भी दिया था टाइमिंग बदलने का ज्ञापन
  • बाजारों में भीड़ न हो और नियमों के पालन के लिए 50 से अधिक पुलिसकर्मी रखेंगे निगरानी

कुछ राहत की गाइडलाइन के बाद लॉकडाउन 7 जून सुबह 5 बजे तक बढ़ा दिया गया है। जिला प्रशासन ने भी इसकी गाइडलाइन जारी की है। पिछले कई दिन से जिला व्यापार मंडल और दुकानदार दुकान खाेलने के समय में बदलाव की मांग कर रहे थे। अब सुबह 7 से 12 बजे की बजाय सुबह 9 बजे से दोपहर बाद 3 बजे तक दुकानें खुलेंगी।

शहर में कच्चे क्वार्टर बाजार और कपड़ा मार्केट में ज्यादा भीड़ होती है। कच्चे क्वार्टर में दुकानों को नंबरिंग देकर ऑड-ईवन आधार पर खोलने के निर्देश हुए, लेकिन यह सफल नहीं हुए। शहर में सभी बाजार एक दिन लेफ्ट व दूसरे दिन राइट आधार पर खुलेंगे। सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक शॉपिंग मॉल खोलने की इजाजत नियमानुसार दी गई है।

आठ के करीब छोटे बड़े शॉपिंग मॉल शहर में हैं। व्यस्था के लिए पुलिस की निगरानी ड्यूटियां भी लगाई गई हैं। आंगनबाड़ी और क्रेच 30 जून तक और स्कूल, कॉलेज व आईटीआई 15 जून तक बंद रहेंगे। इसके अलावा शॉपिंग मॉल को ग्राहकों की सीमित संख्या और तय समय सीमा का पालन करना होगा।

इसके लिए एक फॉर्मूला बनाया गया जिसके तहत 25 वर्ग मीटर के क्षेत्र में एक व्यक्ति को उपस्थित रहने की अनुमति होगी। इसी प्रकार, व्यक्तियों की संख्या शॉपिंग मॉल के क्षेत्रफल के अनुसार भिन्न हो सकती है। मॉल मालिकों को प्रवेश और निकासी पर नजर रखने के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन भी विकसित करना होगा। मॉल मालिकों को इस सभी व्यवस्थाओं के लिए नियम बनाने होंगे और जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त करनी होगी।

कच्चे क्वार्टर में 400, कपड़ा मार्केट में 100 से अधिक दुकानें

शहर में सबसे ज्यादा भीड़ वाले बाजार कच्चे क्वार्टर और कपड़ा मार्केट है। कच्चे क्वार्टर में 400 और कपड़ा मार्केट में 100 से अधिक दुकानें हैं। यहां हर दिन सैकड़ों की संख्या में लॉकडाउन में भी खरीदारी करने लोग पहुंच रहे हैं। कच्चे क्वार्टर बाजार में दुकानों को नंबर जारी कर दिए गए थे। एक दिन 1, 3,5,7 आधार पर और दूसरे दिन 2,4,6,8 के नंबर आधार पर दुकानें खोलने के निर्देश हुए।

यहां एक-एक दुकान के कई शटर होने या दुकानों को नंबरिंग आधार पर खेलने में दिक्कतें आई। कच्चे क्वार्टर बाजार एसोसिएशन प्रधान राकेश चौपड़ा ने बताया कि बाजार लेफ्ट और राइट आधार पर खोल रहे हैं। समय बदलने से राहत मिलेगी। नियमों की पालना का आह्वान दुकानदारों से किया है। शहर में अन्य बाजार भी लेफ्ट व राइट आधार पर खुलेंगे।

इंडस्ट्रीज को भी दिए गए हैं नियम पालन करने के निर्देश

जिले में 6 हजार के करीब छोटी बड़ी इंडस्ट्रीज हैं। इंडस्ट्रीज को कोविड नियमों की पालना कर इंडस्ट्रीज चलाने के निर्देश हैं। श्रमिकों को परिसर में रख सकते हैं या उन्हें लाने-ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था करनी है। राई इंडस्ट्रीज एसाेसिएशन प्रधान राकेश देवगन ने बताया कि इंडस्ट्रीज में श्रमिकों की कमी है। 70 प्रतिशत प्रवासी श्रमिक घरों को गए हैं। लॉकडाउन में बाजार नहीं खुलने से रॉ मेटिरियल की दिक्कत है।

पुलिस की सख्ती जारी, मास्क न लगाने पर 309 के चालान

निगरानी के लिए राइडर और पीसीआर के अलावा चौक-चोराहों पर 50 से अधिक पुलिस कर्मियों की ड्यूटियां लगाई गई हैं। रविवार को भी बिना मास्क घूमने वाले 309 के चालान किए गए। 212 वाहन चालकों के चालान किए व 12 वाहनों को जब्त किया गया।

मिठाई की दुकानें हर दिन खोलने की मांग : शहर में 50 से अधिक मिठाई की दुकानें हैं। जिला व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय सिंगला ने कहा कि दुकानों का समय सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक करने से राहत मिलेगी। यह ग्राहक के आने का सही समय है। इसकी मांग व्यापार मंडल कर रहा था। शहर में मिठाई की दुकानों को हर दिन खोलने की मांग है। इसको लेकर प्रशासनिक अधिकारियों से सहमति भी ली गई है।

^बाजारों में लॉकडाउन में समय में बदलाव किया गया है। कोरोना गाइडलाइन की पालना जरूरी है। मास्क व निश्चित दूरी बनाना जरूरी है। संक्रमण न फैले यह सबकी जिम्मेदारी है। गाइडलाइन पालना नहीं करने पर कार्रवाई होगी। श्यामलाल पूनिया, डीसी, सोनीपत।

खबरें और भी हैं...