सिंघु बॉर्डर 15 से खुलेगा हल्के वाहनों के लिए:सोनीपत की तरफ सारे अवरोधक हटाए गए, भारी वाहनों के गुजरने पर अभी पाबंदी रहेगी

सोनीपत5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसान आंदोलन के कारण एक साल से बंद सिंघु बॉर्डर को बुधवार को यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। इस मार्ग से अभी हल्के वाहनों को ही गुजरने की इजाजत होगी। भारी वाहन अभी भी वैकल्पिक मार्गों से ही दिल्ली जाएंगे।

सोनीपत के जिलाधिकारी (DC) ललित सिवाच ने मंगलवार शाम नेशनल हाईवे-44 पर कुंडली-सिंघु बॉर्डर पर पहुंच रोड खोलने के कार्यों का निरीक्षण किया। DC लगातार दो दिन से वहां जा रहे हैं। सोनीपत के हिस्से को तो सोमवार को साफ कर दिया गया था। दिल्ली की तरफ से काम बाकी था, जिसे मंगलवार को वाहन गुजरने लायक बनाया गया। दिल्ली का रास्ता अभी पूरी तरह से साफ नहीं हुआ है।

कुंडली बॉर्डर पर डीसी ललित सिवाच और एसपी राहुल शर्मा।
कुंडली बॉर्डर पर डीसी ललित सिवाच और एसपी राहुल शर्मा।

DC ललित सिवाच ने कहा कि जिला प्रशासन ने कुंडली-सिंघु बॉर्डर पर हरियाणा की सीमा में सड़क से सभी अवरोधक हटा दिए हैं। सड़क पर 95 प्रतिशत गड्‌ढों को भर दिया गया है। शेष 5 प्रतिशत गड्‌ढों को मंगलवार रात को भरवा दिया जाएगा।

डीसी ने आशा व्यक्त की कि बुधवार 15 दिसंबर सुबह से कुंडली-सिंघु बॉर्डर पर यातायात सुचारु ढंग से शुरू हो जाएगा। उन्होंने पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा तथा जिला प्रशासन के उच्चाधिकारियों के साथ बॉर्डर का दौरा किया। यातायात को शुरू करने के लिए किए जा रहे प्रबंधों की मौके पर समीक्षा की।

सिंघु बॉर्डर खोलने को लेकर हिदायत देते डीसी और एसपी।
सिंघु बॉर्डर खोलने को लेकर हिदायत देते डीसी और एसपी।

उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने NGT एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड आदि की हिदायतों को ध्यान में रखते हुए कार्य किया है। यातायात पुलिस यह सुनिश्चित करेगी कि इस मार्ग पर यातायात शुरू करते समय केवल छोटे वाहनों को ही आवागमन की अनुमति दी जाए। भारी वाहन अभी पहले की तरह वैकल्पिक मार्गों से गुजारे जाएंगे।

खबरें और भी हैं...