खरखौदा शराब घोटाला / रेड कर पकड़ी गई सील शराब को बेचने व ज्यादा शराब को सेटिंग कर कम दिखाने वाला आरोपी एएसआई काबू

X

  • अब गोदाम में एक- एक बोतल की हो रही काउंटिंग

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

सोनीपत. रेड कर पकड़ी गई सील शराब की 5696 पेटियों को चोरी कर बेचने व ज्यादा शराब पकड़ने के बाद सेटिंग कर कम शराब दिखाने के मामले में एसआईटी ने शुक्रवार को आरोपी एएसआई जयपाल को रोहतक से  गिरफ्तार कर लिया है। यह जानकारी एसआईटी से डीएसपी जितेंद्र ने दी। डीएसपी जितेंद्र ने बताया आरोपी एएसआई जयपाल को शनिवार कोर्ट में पेश किया जाएगा। कोर्ट से आरोपी का रिमांड मांगा जाएगा, इसके बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा। एएसआई जयपाल केस दर्ज होने के बाद से फरार चल रहा था । आरोप है आरोपी एएसआई जयपाल बर्खास्त एसएचओ जसबीर व ठेकेदार भूपेंद्र से मिलीभगत किए हुआ था। 

शराब घोटाला उजागर होने के बाद एसईटी द्वारा नए सिरे से जांच शुरू की गई है।एसईटी अधिकारियों ने दौरा करके गोदाम में रखी हुई सारी शराब की नए सिरे से काउंटिंग कराने के आदेश दिए थे । जिसके तहत एक एक पेटी खोल कर उसके अंदर रखी हुई शराब की बोतलों की अलग-अलग काउंटिंग की जा रही है । ताकि अब इस मामले में किसी भी तरह की चूक बाकी ना रहे और अगर पेटियों में बोतलों की कमी है तो उसकी भी अलग से रिपोर्ट बनाई जाएगी।  हालांकि एसआईटी ने मामला उजागर होने के बाद शराब की काउंटिंग अपने स्तर पर कराई थी, इसी तरह से एक्साइज डिपार्टमेंट ने भी खुद शराब की पेटियों  की काउंटिंग की थी और अपना डाटा पुलिस विभाग में जमा कराया था।  लेकिन जांच अधिकारी सीनियर आईएएस टी सी गुप्ता व अन्य अधिकारियों की टीम ने दोबारा से काउंटिंग कराने का निर्णय लिया और इस बार पेटियों की नही बल्कि पेटियां खोलकर बोतलों की एक-एक करके काउंटिंग की जा रही है।  

बर्खास्त इंस्पेक्टर व ठेकेदार का भाई फरार
बर्खास्त इंस्पेक्टर जसबीर सिंह व मुख्य आरोपी भूपेंद्र का भाई जितेंद्र अभी भी फरार हैं। इनकी गिरफ्तारी इस केस में अहम है। इनसे ही शराब तस्करी के पूरे नेटवर्क का खुलासा हो सकेगा। 
जिन ट्रकों में शराब पकड़ी उनके मालिकों से भी पूछताछ : जिन ट्रकों में शराब लोड है उनके मालिकों से भी पुलिस पूछताछ करेगी।  ताकि शराब तस्करी के पूरे नेटवर्क का पता चल सके। लोक डाउन में आरोपियों ने डेराबस्सी के एसडीएम का फर्जी पास एक गाड़ी पर लगा रखा था। जिसका पता चला है।  आरोपी भूपेंद्र ठेकेदार सप्लाई के लिए किन लोगों की गाड़ी लेता था, इसकी पूरी छानबिन की जा रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना