• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Sonipat
  • The Daughter Studying In The Fourth Said Waving The Tricolor Everyone Is Happy, I Am Also Very Happy, The Father Turned The Border

7 महीने से सिंघु बॉर्डर पर डटा परिवार:चौथी में पढ़ने वाली बेटी तिरंगा लहराती हुई बोली- सब खुश तो मैं भी बहुत खुश, पिता ने घुमाया बॉर्डर

सोनीपत9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाइक से साथ लगी ट्रॉली पर बच्चों को सिंघु बॉर्डर घुमाने के लिए निकलते कुलदीप। - Dainik Bhaskar
बाइक से साथ लगी ट्रॉली पर बच्चों को सिंघु बॉर्डर घुमाने के लिए निकलते कुलदीप।

पंजाब के मोगा का एक पूरा परिवार सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में सात महीने से डटा हुआ है। शुक्रवार को PM मोदी के ऐलान के बाद परिवार की चौथी में पढ़ने वाली बच्ची प्रभजोत हाथ में तिरंगा और किसान यूनियन का झंडा थामे खुशी से झूमती रही। खुश होने का कारण पूछा तो बच्ची ने कहा कि सभी खुश दिख रहे हैं तो मैं भी खुश हूं। उसके पापा अभी गाड़ी में बॉर्डर घुमाएंगे।

प्रभजोत अपने पिता कुलदीप सिंह के साथ पिछले 9 महीने से सिंघु बॉर्डर पर ही है। किसान आंदोलन के मंच के साथ ही उनका ठिकाना है। कुलदीप ने बताया कि आंदोलन शुरू होने पर यहां आया था। कुछ दिन बाद वह लौट गया। उसके बाद दोबारा आया और अब अपनी तीन बेटियों, बेटे, पत्नी और मां के साथ पिछले सात महीने से यहीं डटा है। प्रभजोत सबसे छोटी बेटी है। सरकार तीनों आंदोलन वापस ले रही है, इस कारण अन्य किसानों के साथ उनका परिवार भी खुश है।

अपने हाथों में तिरंगा और किसान यूनियन का झंडला लेकर झूमती प्रभजोत।
अपने हाथों में तिरंगा और किसान यूनियन का झंडला लेकर झूमती प्रभजोत।

अच्छी बात है, जल्दी समझ आ गया
कृषि कानून वापस लेने के ऐलान के संबंध में कुलदीप ने कहा कि अच्छी बात है। जल्द ही समझ आ गया। हम तो डटे हुए हैं, बैठे हुए हैं। कानून तो रद्द करवाकर ही वापस लौटना था। हम तो परेशान थे ही आम लोगों को भी परेशानी हो रही थी। पंजाब ने हमेशा दूसरों के लिए लड़ाइयां लड़ी हैं। हम तानाशाह सरकार के खिलाफ रोष जता रहे थे।

खूब झूमा परिवार, बच्चों के साथ बॉर्डर घूमा
कुलदीप बाद में अपने पूरे परिवार को लेकर बॉर्डर घुमाने निकल गए। चारों बच्चे जहां बाइक के साथ लगी ट्राली में चारों कोनों पर खड़े थे और पत्नी अंदर बैठी थी। पूरे परिवार ने झूमते हुए बताया कि सबकी खुशी में उनकी भी खुशी है।