पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जहर साबित हो रही अमृत योजना:19 माह पहले पूरा होना था सीवर का काम, अभी 48% ही पूरा, ऐसे ताे दो साल और लगेंगे

सोनीपत10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम नोटिस से आगे नहीं बढ़ा, एजेंसी मनमर्जी पर अड़ी

अमृत योजना यहां कभी दलदल में तो कभी मिट्टी में रेंग रही है। नवंबर 2017 में शहर में बेहतर सीवर और पेयजल व्यवस्था बनाने वाला यह प्रोजेक्ट अधूरा है, जबकि मई 2019 में पूरा होना था। तीन साल में सीवर का काम 48 प्रतिशत हुआ है, जबकि का पेयजल का काम 70 प्रतिशत हुआ है।

इसके लिए खोदी गई सड़कें लोगों के लिए मुसीबत बन रही। हल्की बारिश में भी लोग सीवर और जल भराव से जूझते हैं। इसको लेकर काम कर रही एजेंसी को कई बार नोटिस दिया गया, लेकिन कंपनी ने अपने ही गति से काम कर रही है। जिस गति से काम चल रहा है, इससे लोगों को अभी दो साल से ज्यादा इसी मुसीबत में जीना पड़ेगा।

उधर एजेंसी कोरोना और बारिश का हवाला देती रही। नगर निगम की तरफ से नोटिस तो दिए गए लेकिन एक्शन अभी तक नहीं लिया गया है। हाल ही मंे चंडीगढ़ में चीफ सेक्रेटरी की मौजूदगी में हुई बैठक में भी सोनीपत शहर की सीवरेज व्यवस्था पर सवाल उठे और अधूरे कार्यों की रिपोर्ट तलब की गई।

31 दिसंबर तक हर हाल में पूरा करना था काम : बार नोटिस देने के बाद निगम कमिश्नर ने 31 दिसंबर तक का समय बढ़ाया। सांसद रमेश कौशिक ने भी बैठक लेकर निर्देश दिए थे कि दिसंबर तक यह कार्य पूरा होना चाहिए।

सांसद ने भी दिए थे दिसंबर तक काम पूरा करने के निर्देश : सीवर लाइन के काम के चलते मुरथल रोड, बहालगढ़ रोड सहित कई सड़कें उखड़ी पड़ी हैं। बारिश में निकलना भी मुश्किल हो जाता है।

व्यवस्था सुधार के लिए 106 करोड़ खर्च कर रहा निगम
शहर में सीवर व्यवस्था की बदहाली सुधारने के लिए 106 करोड़ का टेंडर हुआ था। इसमें 2500 मीटर सीवर लाइन बिछाई जानी थी।

ये काम भी अभी बकाया
पंप सेट की सप्लाई,160 केवीए का ट्रांसफार्मर, बिजली पैनल बोर्ड, बिजली की तारे, अर्थिंग सिस्टम, ऑटोमेटिक फलोह मीटर, कमिशनिंग के कार्य भी अब तक पेडिंग ही है।

रिपोर्ट में तल्ख टिप्पणी : एजेंसी योजना के बजाए अपनी सुविधा अनुसार कार्य कर रही
अगस्त 2020 में नोटिस के बाद कंपनी ने खुद 17 अक्टूबर 2020 को कार्य योजना बनाकर दी थी, उस पर भी खरी नहीं उतरी। 15 दिसंबर को हुई समीक्षा बैठक में कंपनी प्रतिनिधि आजाद सिंह को कार्य में सुधार के निर्देश दिए गए थे। निगरानी एजेंसी ने एक्सईएन को सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा है कंपनी अपनी सुविधा के अनुसार काम कम रही है।

Q. अमृत योजना के कार्य में काफी ढिलाई बरती जा रही है? A. हां कार्य गति संतोषजनक नहीं है। Q. सीवर वर्क 48 तो पेयजल सप्लाई के काम 70% से ज्यादा नहीं बढ़े? A. एजेंसी की ओर से कार्य सही तरीके से नहीं किया गया। काेरोना व एनजीटी की ओर से प्रदूषण के कारण कार्यों पर रोक भी लगी थी। Q. जो कार्य 2018 में पूरे होने से थे 2020 में नहीं पूरे हुए, शहरवासी परेशान हैं A. एजेंसी को इस बाबत नोटिस दिया गया है। Q. कार्य में तेजी के लिए अब कार्य व्यवस्था कैसी रहेगी? A. एजेंसी की टीम दो दिन में रिपोर्ट करेगी, जिसमें निश्चित गाइडलाइन एवं समय अवधि तय कर कार्य करवाने की व्यवस्था होगी। Q. निगम प्रशासन की आगे क्या एक्शन लेगा? A. कार्य में ढिलाई जारी रही तो एजेंसी बदलने पर भी विचार किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser