पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कुंडली बॉर्डर से किसान आंदोलन लाइव:किसानों के समर्थन में पहुंचीं महिला कबड्डी टीम की खिलाड़ी, कहा- किसान के लिए सरकार से लड़ने आए

राई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जैसे- जैसे किसान आंदोलन में भीड़ बढ़ रही है, अब अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी भी मैदान में कूद गए हैं। गुरुवार को देश को कबड्डी में वर्ल्ड कप जीताने वाली अन्नू रानी भी अपनी चीफ कोच जसकरण मोर लाडी व टीम की खिलाड़ियो के साथ किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए पहुंची। अन्नू ने कहा कि देश के लिए विदेशी घरती पर लड़ी थी, अब अपने किसानाें के लिए सरकार से लड़ने के लिए आईं हैं। किसान बचेगा तो देश बचेगा।

सरकार पर भरोसा नही

किसानों ने सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अपने हाथों में ले ली है। किसान संगठनों ने बॉर्डर पर एक दुकान को कंट्रोल रूम बनाकर ड्रोन से निगरानी शुरू कर दी है। किसानों का कहना है कि उन्हें सरकार पर भरोसा नही है। यदि जरा सी चूक हो गई तो सरकार उनका आंदोलन विफल कर सकती है। युवा छात्र संगठन के सदस्यों ने एक वाट्सएप ग्रुप बनाया है। वे वाट्सअप ग्रुप पर संदिग्ध व्यक्ति का फोटो शेयर कर रहे हैं।

कनाड़ा से बेटे ने कहा- पापा आप यहां संभालाे, हमने कनाड़ा में भी शुरू कर दिया है आंदाेलन

तरनतारण निवासी सरदार सुखचैन सिंह ने कहा कि उनका बड़ा बेटा कमलजीत सिंह कनाड़ा की एक आईटी कंपनी में है। हिंदुस्तान के किसान आंदोलन को अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समर्थन मिल रहा है। बेटे ने फोन पर बताया है कि उन्होंने कनाड़ा में भी अपने सिख युवाओं के साथ विरोध प्रदर्शन शुरू किया है। वे सुबह से लेकर शाम तक कनाड़ा की सड़कों पर पोस्टर वार से देश के पीएम का विरोध कर रहे हैं।

बारिश का अंदेशा, लगाया वाटर प्रूफ टेंट

मौसम बदल रहा है। बुधवार शाम को अचानक मौसम ने करवट बदली तो आंदोलन कर रहे किसानों के भी रोंगटे खड़े हो गए। बारिश से राशन बचाने के लिए उन्होंने गुरुवार सुबह ही वाटर प्रूफ टेंट लगाने शुरू कर दिए। किसान नेता जसप्रीत जस्सी ने कहा कि उनके साथ छह महीने का राशन है। ऐसे में यदि बारिश आ गई तो उन्हें परेशान होना पड़ेगा।

शहीद भगत सिंह ने देश के लिए कुर्बानी दी

छात्र युवा एकता संगठन के सदस्यों ने शहीद भगत सिंह व लाला लाजपत राय की जीवनी पर आधारित नाटक प्रस्तुत किया। नाटक के माध्यम से उन्होंने संदेश दिया कि भगत सिंह ने देश के लिए अपने प्राणों की कुर्बानी दी थी, वे किसान कौम की खातिर बलिदान देने आए हैं। बलिदान देना सिख कौम का इतिहास रहा है। मंच से भाजपा विरोधी गीत भी प्रस्तुत किए गए। मौजूदा सरकार को गौरे अंग्रेजों से भी ज्यादा खतरनाक बताया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser