पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

यूपी-हरियाणा पर खूनी सीमा विवाद:राजस्व विभाग ने डीसी को सौंपा रिकाॅर्ड, हरियाणा के जाजल गांव की है जमीन

राई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के जाजल गांव के किसानों पर गुरुवार को पीसीआर की सुरक्षा में भी यूपी के निवाड़ा गांव के किसानों ने हमला कर दिया था। इस घटना को सोनीपत के डीसी श्यामलाल पूनिया ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने राई के नायब तहसीलदार वेदपाल को सख्त आदेश देते हुए राजस्व रिकाॅर्ड मांगा था। राई उपतहसील से डीसी श्यामलाल पूनिया को जमीन की जमाबंदी व सजरा रिपोर्ट सौंप दी है।

सरकारी रिकाॅर्ड में यह जमीन हरियाणा के जाजल गांव की है। प्रशासन की तरफ से यूपी के प्रशासन को भी इस बारे में रिपोर्ट भेज दी गई है। उधर, यूपी के किसान व प्रशासनिक अधिकारी जमीन पर हाईकोर्ट में केस चलने की बात बोलकर गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। जाजल गांव के किसान यमुना नदी के साथ लगती 235 एकड़ जमीन में गेहूं की बिजाई करने गए थे। पुलिस पीसीआर में एक ईएसआई व तीन पुलिस कर्मी थे। जब जाजल के किसान गेहूं की बिजाई कर रहे थे तो अचानक यूपी के निवाड़ा के ग्रामीणों ने हमला कर दिया था। वे जाजल गांव के किसानों के दो ट्रैक्टर छीन ले गए थे और 7 किसानों को चोट लगी थी।

हरियाणा सीमा में फिर घुसे यूपी वाले

ग्रामीणों ने कहा कि निवाड़ा के लोग दोबारा से उनकी जमीन में घुस रहे हैं। वे दिन में खेत में काम करते भी देखे गए हैं। यूपी का प्रशासन भी उनकी मदद कर रहा है।

किसान संघ की पंचायत आज

भारतीय किसान संघ के प्रदेश महामंत्री वीरेंद्र बढ़खालसा ने भी इस हमले की निंदा की है। किसान संघ ने रविवार को जाजल गांव में पंचायत बुलाई है। जिसमें यमुना नदी के साथ लगते खादर के सभी गांवों के किसान मौजूद रहेंगे। पंचायत दोनों प्रदेशों के किसानों से बातचीत के लिए एक कमेटी भी गठित करने पर विचार करेगी।

डीसी श्यामलाल पूनिया को राजस्व रिकाॅर्ड, जमाबंदी व सजरा रिपोर्ट सौंप दिया है। सरकारी रिकाॅर्ड में जमीन हरियाणा की है। इस पर उच्च स्तरीय दिशा निर्देश अनुसार अमल होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें