डाॅक्टरों, नर्सिंग स्टाफ को किया सम्मानित:सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छछरौली में सुदर्शन फाउंडेशन ने आयुर्वेदिक कैंप लगाया

छछरौली16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छछरौली में सुदर्शन फाउंडेशन ने आयुर्वेदिक कैंप लगाया। मुख्य अतिथि शिक्षामंत्री कंवरपाल गुर्जर रहे। उन्हाेंने कहा कि लोगों को अपने खान पान की आदतों में बदलाव करना चाहिए। हमारे प्राचीन ग्रंथों में हर बीमारी का आयुर्वेद उपचार बताया गया है, लेकिन हम इन चीजों को भूल गए हैं। कोरोना काल में इसी आयुर्वेद ने हमारी रक्षा की है। आयुर्वेद के अनुसार बनाए गए काढ़े के सेवन ने कोरोना वायरस को काफी हद तक रोका।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छछरौली के डाॅक्टर वागीश गुटैन ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग यमुनानगर व सुदर्शन फाउंडेशन ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छछरौली में निशुल्क आयुर्वेदिक मेडिकल जांच शिविर व जागरुकता कैंप लगाया। सुदर्शन फाउंडेशन संस्था के संचालक संदीप बजाज व डॉ. गुटैन ने बताया कि इस कैंप का 347 मरीजों ने इसका लाभ लिया। मरीजों की डॉक्टरों ने जांच की। उन्हें दवाइयां भी मुफ्त में दी। स्वास्थ्य विभाग यमुनानगर द्वारा एनिमिया मुक्त अभियान हरियाणा के लिए 170 मरीजों की निशुल्क खून की जांच की गई।

59 लोगों का कोविड वैक्सीन टीकाकरण किया गया और आयुष्मान कार्ड की जानकारी दी गई, जिसमें 53 लाभार्थी मिले। कोरोना काल में बेहतरीन सेवाएं देने के लिए डाक्टरों, नर्सिंग स्टाफ को शिक्षामंत्री कंवरपाल ने स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। विधायक घनश्याम दास अरोड़ा ने भी आयुर्वेदिक उपचार व जड़ी बूटियों के महत्व के बारे में लोगों को जागरूक किया।

खबरें और भी हैं...