दर्दनाक सड़क हादसा दंपती की मौत:ससुराल से लौट रहे बुलेट सवार दंपती को ट्रक ने रौंदा, महिला के शव के टुकड़े सड़क से समेटने पड़े

सरस्वती नगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सड़क पर पड़े दंपती के शव व बाइक में लगी आग। - Dainik Bhaskar
सड़क पर पड़े दंपती के शव व बाइक में लगी आग।

छप्पर-अधोया रोड पर गांव कुलपुर के पास तेज रफ्तार ट्रक चालक ने छछरौली के गांव शेरपुर निवासी दंपती ओमप्रकाश (58) और बबली (58) को टक्कर मार कुचल दिया। दोनों की मौके पर मौत हो गई। बबली के ऊपर से ट्रक का पहिया निकल गया। उसके शव के टुकड़े सड़क से समेटने पड़े। वहीं, टक्कर लगने के बाद ओमप्रकाश का शव दूर जाकर गिरा। ट्रक चालक मौके से भागा तो किसान ने उसका पीछा किया। किसान ने कुछ दूरी पर जाकर उसे पकड़ लिया। इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रक को कब्जे में लिया। वहीं मृतक दंपती के शवों का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। ट्रक चालक पर केस दर्ज कर लिया है।

गांव कुलपुर निवासी सुभाष चंद ने छप्पर पुलिस को शिकायत दी है कि 22 मई को सुबह वह अपने खेतों में फ्लाईओवर के पास काम कर रहा था। इसी दौरान उसने देखा कि एक ट्रक चालक तेजी से ट्रक चलाता हुआ जा रहा था। ट्रक चालक छप्पर से शाहबाद की तरफ जा रहा था। इस दौरान उसे जोर से आवाज सुनाई दी, जैसे बम फट गया हो। उसने देखा कि ट्रक चालक ने एक बुलेट सवार को टक्कर मारी और ट्रक महिला के ऊपर से गुजर गया था और व्यक्ति सड़क पर पड़ा था। दोनों की मौत हो चुकी थी। महिला के पेट के ऊपर से ट्रक निकला हुआ था। वहीं व्यक्ति सड़क के बीच में पड़ा था। उसे भी काफी चोटें लगी हुई थी।

चालक ट्रक काे लेकर मौके से फरार हो गया। उन्होंने ट्रक का पीछा किया तो उसने ट्रक चालक को पकड़ लिया। आरोपी की पहचान शाहबाद के मोहल्ला मीरापुर निवासी गगनदीप के रूप में हुई। बाद में पता चला कि मरने वाला दंपती था। मृतक छछरौली के गांव शेरपुर निवासी ओमप्रकाश और उसकी पत्नी बबली थे। ओमप्रकाश अपनी पत्नी को लेकर कुरुक्षेत्र स्थित अपने ससुराल गया था। वहां से लौटते समय हादसा हो गया।

दर्दनाक | हादसे में महिला के ऊपर से गुजर गया तेज रफ्तार ट्रक का पहिया

कंस्ट्रक्शन ठेकेदार था ओमप्रकाश
ओमप्रकाश सरकार से टेंडर लेकर गलियां, सड़कें और अन्य निर्माण कराने का काम करता था। वह शनिवार को अपनी पत्नी को बुलेट बाइक पर लेकर ससुराल गया था। उसका ससुराल कुरुक्षेत्र जिले में है। दोनों की मौत से गांव में मातम का माहौल है। सामने आया है कि ट्रक और बाइक की आमने सामने की टक्कर हुई। जब यह हादसा हुआ तक वहां से कार निकल रही थी। कार को बाइक सवार ओवरटेक कर रहा था। वहीं दूसरी तरफ से ट्रक चालक लापरवाही से ट्रक चलाते हुए आ रहा था। पकड़े जाने पर ट्रक चालक ने भी यही बताया है।

सिर पर हेलमेट था, लेकिन सड़क पर इतनी जोर से गिरा कि मौत हो गई
ओमप्रकाश ने हेलमेट डाला हुआ था। जब हादसा हुआ तो वह उछलकर दूर जा गिरा। हालांकि वह ट्रक के नीचे आने से बच गया। सड़क पर गिरने के बाद भी उसका हेलमेट सिर पर था, लेकिन सड़क पर वह इतनी जोर से गिरा कि उसे पूरे शरीर पर चोट लगी। इसमें उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस दौरान उसकी बुलेट बाइक में आग लग गई। हादसे में बाइक काफी दूर जाकर गिरी।

कंपनी कर्मी की कार की टक्कर से माैत
गांव नमदारपुर निवासी नरेश ने छप्पर पुलिस को शिकायत दी है कि वह दामला में एडविन बैटरी की कंपनी में नौकरी करता है। उसके साथ कश्यप मोहल्ला छप्पर निवासी पंकज भी वहां पर काम करता है। दोनों अपनी-अपनी बाइक पर जाते हैं और साथ ही वापस जाते हैं। 21 मई को रात साढ़े नौ बजे दामला कंपनी से छुट्टी के बाद घर के लिए चले थे। पंकज अपनी बाइक पर था। जब वे सरस्वती नगर में सरस्वती मंदिर के पास पहुंचे तो एक कार चालक ने पंकज की बाइक को सीधी टक्कर मार दी। पंकज सड़क पर गिरा और उसके सिर में काफी चोट लगी। कार चालक मौके से फरार हो गया। वहीं, पंकज की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने कार चालक पर केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...