गुरु तेग बहादुर जी का प्रकाशोत्सव:हरियाणा सरकार गुरु साहिब के विचारों को सहेजने के लिए दृढ़ संकल्पित

यमुनानगर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश उत्सव को पानीपत में हर्षोल्लास व श्रद्धा से मनाने पर यमुनानगर की सिख संगत ने हरियाणा सरकार का धन्यवाद करने के लिए मेयर हाउस में समारोह किया गया। शिक्षामंत्री कंवरपाल मुख्य अतिथि रहे। मेयर मदन चौहान, व्यापारी कल्याण बोर्ड के चेयरमैन रामनिवास गर्ग, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश सपरा, सीनियर डिप्टी मेयर प्रवीण शर्मा, डिप्टी मेयर रानी कालड़ा, डॉ. विजय दहिया विशिष्ट अतिथि रहे। संगत ने शिक्षामंत्री व अन्य काे स्मृति चिह्न देकर हरियाणा सरकार का धन्यवाद किया।

इस दौरान विशेष कार्य करने पर हर मैदान फतेह सोसाइटी, औट आसरा सेवा सोसाइटी व अन्य संगठनों के पदाधिकारियों को भी सम्मानित किया गया। शिक्षामंत्री ने कहा कि गुरु तेग बहादुर जी का हरियाणा से गहरा नाता रहा है। उन्होंने हरियाणा और पंजाब से होकर छह यात्राएं की। गुरु साहिब ने हरियाणा के 32 गुरुद्वारों में अपने चरण रखे। गुरु साहिब के शीश की अंतिम यात्रा भी हरियाणा से होकर निकली।

हरियाणा सरकार गुरु साहिब के विचारों को सहेजने के लिए दृढ़ संकल्पित है। मेयर ने कहा कि गुरुओं ने समाज और देश की रक्षा के लिए बलिदान दिया था। गुरु साहिब ने भी देश-धर्म की रक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि गुरु तेग बहादुर जी एक नायक थे और औरंगजेब खलनायक था। इसी तरह त्रेता युग में रावण एक खलनायक था जबकि प्रभु श्री राम नायक हुए। इन महापुरुषों ने अत्याचार का विरोध करने, धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए कोई समझौता नहीं किया। मौके पर सहज दुग्गल, रिषभ शर्मा, गुरप्रीत नारंग, सतविंद्र चावला, दमनदीप सिंह, रिशु सिंह, मनप्रीत सिंह, अगम, लवल सिंह, आशिम खुराना, गुरप्रीत सिंह नारंग, गगनजीत सिंह, रमनदीप सिंह, हरप्रीत सिंह, राजन, सरनदीप सिंह, लवप्रीत सिंह, जश्न मक्कड़ मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...