बढ़ती महंगाई में परिवार चलाना मुश्किल:कुशल शर्मा बोले- जब अन्य राज्यों में बहाल हो गई OPS तो हिमाचल में क्यों हो रही आनाकानी

हमीरपुर12 दिन पहले
ओपीएस की बहाली को अनशन पर बैठे नेताओं का हौसला अफजाई के लिए पहुंचे राज्य पदाधिकारी।

हिमाचल के हमरीपुर में राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ के महासचिव कुशल कुमार शर्मा ने कहा कि वह पुरानी पेंशन स्कीम के तहत मौजूदा समय में कर्मचारी हैं। आज एक सिलेंडर की कीमत 1200 तक जा पहुंची है। ऐसे में नई पेंशन स्कीम के तहत जो कर्मचारी सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उन्हें किसी को दो हजार, किसी को 3,500 और किसी को 4,000 पेंशन मिल रही है। ऐसे में वह बढ़ती महंगाई में परिवार कैसे चला पाएंगे?

सरकार को अतिशीघ्र कर्मचारियों कीपुरानी पेंशन बहाल कर देनी चाहिए। राज्य उपाध्यक्ष संजीव शर्मा ने कहा कि राजस्थान में बहाल की गई पुरानी पेंशन के आधार पर ही सीएम जयराम ठाकुर हिमाचल में भी नोटिफिकेशन जारी कर लागू कर दें। सेवानिवृत्त कर्मचारी या मौजूदा कर्मचारी पुरानी पेंशन स्कीम के तहत हैं, वह भी समर्थन में आगे आए हैं।

शर्मा ने कहा कि 13 अगस्त से शिमला में आंदोलन शुरू हुआ था। सितंबर से लोकसभा क्षेत्रों में और फिर 15 सितंबर से वोट फॉर ओपीएस अभियान चलाया जा रहा है। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री ने जिस तरह कड़ा फैसला लेकर जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाई है, उसी तरह प्रदेश सरकार कड़ा फैसला लेकर पुरानी पेंशन बहाल करे।

इस अवसर पर क्रमिक अनशन पर बैठे नई पेंशन स्कीम के कर्मचारियों से भी इन कर्मचारी नेताओं ने मुलाकात की। सरकार से मांग उठाई कि अति शीघ्र उनकी मांग को पूरा किया जाए। यदि मांग प्रदेश सरकार पूरा करती है तो सरकार के मिशन रिपीट को वोट दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...