हमीरपुर में 15 साल से कैफे बंद:उद्घाटन तक नहीं हुआ; जल शक्ति विभाग ने रेस्ट हाउस बनने को भेजा प्रपोजल

हमीरपुर4 महीने पहले
हमीरपुर में 15 साल से बंद पड़ा कैफे।

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर की सीमा पर ऊखली में करीब 15 साल पहले सरकार ने पर्यटकों की सुविधा के लिए 50 लाख के कैफेटेरिया का निर्माण किया था। पर्यटन निगम द्वारा इसका निर्माण करवाया गया था, जो वर्षों तक शुरू न हो सका। कैफेटेरिया तैयार होने के बाद इसका उद्घाटन तक नहीं हुआ।

पर्यटकों को नहीं मिली सुविधा

NH से होकर गुजरने वाले पर्यटक इसकी सुविधाओं का लुफ्त नहीं उठा पाए। अंत में जब पर्यटन निगम ने इसे चलाने के लिए अपने हाथ खड़े कर दिए तो फिर सरकार ने यह इन्फ्रास्ट्रक्चर एक साल पहले जल शक्ति विभाग को सौंप दिया। विभाग ने इसको रेस्ट हाउस बनाने के लिए सरकार को प्रपोजल भेजा है, जो सिरे नहीं चढ़ सका है। सरकार इस प्रपोजल को हरी झंडी नहीं दे रही है।

भवन की हालत खस्ता

कैफेटेरिया भीतर से बुरी तरह टूट फूट रहा है। कहीं पर सीलिंग टूट चुकी है तो कहीं दरवाजे खिड़कियां। शौचालयों की भी स्थिति बहुत खराब है। ऐसे में जल्द ही भवन ढह जाएगा।

तीन कमरों का प्रपोजल भेजा

जल शक्ति विभाग के भोटा स्थित SDO आर गर्ग का कहना है कि सरकार को रेस्ट हाउस के तीन कमरों के निर्माण के लिए प्रपोजल भेजा गया है। बाकी का इन्फ्रास्ट्रक्चर उसी के लिए इस्तेमाल हो जाएगा। 50 लाख की लागत से कमरों का निर्माण होना है।

खबरें और भी हैं...