सुजानपुर में चैंपियन बेटियां हुईं सम्मानित:एक सप्ताह चला बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम, SDM बोले- विभिन्न जगहों पर हुए कार्यक्रम

सुजानपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
योगा चैंपियन एशियन रिकॉर्ड होल्डर दिशा डोगरा को सम्मानित करते SDM। - Dainik Bhaskar
योगा चैंपियन एशियन रिकॉर्ड होल्डर दिशा डोगरा को सम्मानित करते SDM।

हिमाचल के हमीरपुर स्थित सुजानपुर में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत राज्य और देश का नाम रोशन करने वाली बेटियों को सम्मानित किया गया। इस दौरान SDM डॉ. हरीजश गज्जू ने बेटियों के ट्रॉफी व स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया। वहीं, पूरे सप्ताह बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम चलाकर लोगों को जागरूक किया गया।

SDM सुजानपुर डॉ. हरीश गज्जू ने बताया कि पूरे सप्ताह उपमंडल क्षेत्र के सभी सरकारी कार्यालयों, स्कूलों, पंचायत घरों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में बेटियों के संरक्षण, उनके निर्बाध विकास के लिए लैंगिक पूर्वाग्रह रहित परिवेश और समान अवसरों के सृजन की शपथ दिलाई गई। सभी विभागीय कार्यालयों, ग्राम पंचायत कार्यालयों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में विशेष हस्ताक्षर अभियान का संचालन किया गया।

योगा में ही वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर निधि डोगरा को ट्रॉफी देते SDM।
योगा में ही वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर निधि डोगरा को ट्रॉफी देते SDM।

7 हजार लोगों का मिला समर्थन
​​​​​​​जो सप्ताह भर चला और इसमें लगभग 7 हजार लोगों का समर्थन प्राप्त हुआ। सप्ताह भर कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर संदेश देकर अलख जगाया। इस अवसर पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के स्टीकर्स लोगों के घरों में लगाए गए। ग्राम पंचायतों में विशेष ग्राम सभाओं का आयोजन किया गया।

स्कूलों में आयोजित हुए कार्यक्रम
स्कूलों में रंगों के खेल, चित्रकला, नारा लेखन, कविता पाठ जैसे कार्यक्रमों के माध्यम से बेटियों के बाल मन को टटोलने और उनकी कल्पना के आदर्श संसार को जानने का प्रयत्न किया गया। वहीं, 18 पंचायतों में जनसमुदाय और स्थानीय नेतृत्व से जनसंवाद कार्यक्रमों के प्रथम दौर का आयोजन किया गया, जो आगामी 27 जनवरी तक जारी रहेगा। जबकि द्वितीय दौर का संवाद फरवरी माह में किया जाएगा।

सुजानपुर का लिंगानुपात लड़कों से ज्यादा
उन्होंने कहा कि जनसमुदाय एवं विभागीय अधिकारियों का उनकी प्रतिबद्धता के लिए वॉलिंटियर ऑर्गेनाइजेशंस और विभिन्न विभागों का योगदान रहा। उनके उत्साह के परिणाम स्वरूप ही उपमंडल सुजानपुर लिंगानुपात में प्रति 1000 लड़कों पर 1040 लड़कियों तक पहुंचने में सफल हुआ।