पुलिस भर्ती पेपर लीक पर घेरा:MLA काजल बोले- औपचारिकता निभा रही है भाजपा सरकार, CBI को दे जांच

कांगड़ा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम के दौरान विजेताओं को सम्मानित करते विधायक काजल। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम के दौरान विजेताओं को सम्मानित करते विधायक काजल।

हिमाचल प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के मामले की जांच सरकार CBI से करवाए। पुलिस इस मामले में मात्र औपचारिकता ही निभा रही है। शनिवार को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष विधायक पवन काजल ने भाजपा सरकार से यह मांग की।

काजल ने कहा कि प्रदेश सरकार घटना के दो सप्ताह बाद भी मामले में संलिप्त किसी भी अधिकारी या पुलिस कर्मचारी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। पुलिस पेपर देने वाले छात्रों को गिरफ्तार कर जांच में महज औपचारिकता निभाई जा रही है। उच्च पदों पर बैठे अधिकारी कारनामों को छिपाने में लगे हैं।

कार्यक्रम के दौरान युवाओं से बात करते विधायक काजल।
कार्यक्रम के दौरान युवाओं से बात करते विधायक काजल।

उन्होंने कहा कि हिमाचल सरकार बेरोजगारों को रोजगार देने में पूरी तरह से नाकाम रही है। प्रदेश में भर्ती परीक्षाओं पर अंगुलियां उठने से बेरोजगार वर्ग का भाजपा सरकार से विश्वास उठ गया है। भाजपा की डबल इंजन सरकार महंगाई पर लगाम लगाने में नाकाम रही है। आए दिन बढ़ रहे पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस सिलेंडर और खाद्य पदार्थों के दामों से रसोई का सारा बजट गड़बड़ा गया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में जिला कांगड़ा के बगल में बेरोजगारों को रोजगार मुहैया करवाने के लिए 12 करोड़ रुपए और आईटी पार्क के लिए भूमि स्वीकृत हुई थी। मौजूदा भाजपा सरकार अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में इस संबंध में कोई पहल करने में नाकाम रही है। कांग्रेस सत्ता में आने पर आईटी पार्क का निर्माण प्राथमिकता से करवाएगी। काजल शनिवार को ग्राम पंचायत ज़मानाबाद कोटकवाला में चिन्मय युवा क्लब कोटकवाला के कार्यक्रम में पहुंचे थे। उन्होंने अपनी ओर से युवा क्लब को 21 हजार रुपये की आर्थिक सहायता भेंट की। इस मौके पर नरेश कुमार, रवि कुमार , सोनू कुमार, सुरजीत कुमार, बिट्टू, बवला, सुनील कुमार, विजय कुमार आदि भी मौजूद रहे।