बीड बिलिंग मे सेना की पैराग्लाईडिंग प्रतियोगिता शुरू:3 दिन तक चलने वाली प्रतियोगिता मे 30 जवान ले रहे भाग

बैजनाथ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल के कांगडा के बैजनाथ मे विश्व विख्यात पैराग्लाईडिंग बिलिंग घाटी मे शनिवार को सेना के जवानों की अंतर पैराग्लाईडिंग प्रतियोगिता का आयोजन शुरू हुआ। इस प्रतियोगिता मे ब्रिगेडियर आशीष कुमार ने मुख्यातिथि के रूप मे शिरकत की। उन्होंने कहा कि साहस और रोमांच का यह खेल पायलटों को नई दिशा और दशा प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों से सैन्य पैराग्लाइडर पायलटों में प्रतिस्पर्धा की भावना उत्पन्न होती है,जिसे वो आने वाले समय में सैन्य गतिविधियों में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्रतियोगिता मे भाग लेने आने सेना के जवान।
प्रतियोगिता मे भाग लेने आने सेना के जवान।

तीनों सेना के प्रतियोगिता में 30 पायलट ले रहे भाग

इस प्रतियोगिता में थल सेना वायु सेना और जल सेना के कुल 30 पायलट भाग ले रहे हैं।जो कि देश के कोने-कोने से आए हैं। इस अवसर पर आर्मी एडवेंचर स्पोर्ट्स के निदेशक कर्नल P.S चौहान ने कहा कि पहले उन्हें एडवेंचर की ऐसी प्रतियोगिताओं के लिए बाहरी देशों का रुख करना पड़ता था, मगर अब अपने ही देश में इस प्रकार की खेलों के लिए माकूल माहौल तैयार हो रहा है।सेना कि इस प्रतियोगिता का आयोजन 3 दिन होगा।प्रतियोगिता के अंतिम दिन समापन समारोह मे सेना के बड़े अधिकारी मुख्य अतिथि के रूप मे शिरकत करेंगे।

मुख्य अतिथि आशीष कुमार।
मुख्य अतिथि आशीष कुमार।

पिछले चार वर्षों के दौरान घाटी में एक भी बड़ी प्रतियोगिता नहीं हो सकी है। इस वर्ष भी चुनावी आचार संहिता के कारण प्रतियोगिता की नही हो सकी है। ऐसे में भारतीय सेना की ओर से प्रतियोगिता करवाए जाना घाटी के लिए एक सुखद समाचार है।भारतीय सेना के पायलट पूर्व में भी घाटी में अभ्यास करते आए हैं ,और चार वर्ष पूर्व सेना की ओर से प्रतियोगिता का आयोजन किया जा चुका है।