मुख्यमंत्री के बयान पर कांग्रेस का पलटवार:ठाकुर सेन मेहता बोले- करसोग में पुरानी घोषणाओं का नहीं कोई जिक्र

करसोग6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस कमेटी के सोशल मीडिया संयोजक ठाकुर सेन मेहता। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस कमेटी के सोशल मीडिया संयोजक ठाकुर सेन मेहता।

हिमाचल में जिला मंडी के तहत करसोग में प्रगतिशील हिमाचल स्थापना के 75 वर्ष के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के भाषण पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। यहां जारी प्रेस बयान में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के सोशल मीडिया संयोजक ठाकुर सेन मेहता ने कहा कि मुख्यमत्री ने करसोग दौरे के दौरान जो घोषणाएं की है उसका कांग्रेस स्वागत करती है, लेकिन बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि पुरानी घोषणाएं जो पूरी नहीं हुई है, उसका मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और स्थानीय विधायक हीरालाल ने अपने भाषण में जिक्र तक नहीं किया।

करसोग में 5 साल पहले विधानसभा चुनाव के वक्त केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्रीय विद्यालय खोलने की घोषणा की थी, लेकिन इसे अभी धरातल पर नहीं उतरा गया है। इसी तरह से करसोग में पॉलिटेक्निक कॉलेज खोलने को लेकर मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कोई जिक्र नही किया। इसके अतिरिक्त महाविद्यालय में 36 में प्रवक्ताओं के 22 पद खाली चल रहे हैं। सिविल अस्पताल में डॉक्टरों के 8 पद रिक्त है, इसी तरह से अस्पताल में नर्सों 6 पद भी नहीं भरे जा रहे हैं। जिससे गरीब लोगों को इलाज करवाने के लिए शिमला या मंडी जाना पड़ रहा है, लेकिन आम जनता की इन समस्याओं को मुख्यमंत्री और विधायक ने अपने संबोधन में कोई स्थान नहीं दिया।

विधायक हीरालाल से कांग्रेस का सवाल

कांग्रेस ने करसोग में बने बाइपास पर सवाल उठाते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच किए जाने की भी मांग की है। ठाकुर सेन मेहता ने कहा कि विधायक हीरालाल ने अपने भाषण में 300 करोड़ की लागत से सड़कों की टारिंग करने की बात कही है। उन्होंने पूछा है कि विधायक जनता को ये बताए कि करोड़ों की टारिंग कहां हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना की आड़ में अपनी नाकामियों को छुपाना बंद करे।