जयराम ठाकुर का कांग्रेस पर तंज:करसोग में CM बोले- जो कभी दुकान नहीं गए वो क्या जानें आटा दाल का भाव

करसोग2 महीने पहले
करसोग में जनता का अभिवादन स्वीकार करते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर।

हिमाचल के मंडी स्थित करसोग में आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम में जयराम ठाकुर अलग-अलग अंदाज में नजर आए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कांग्रेस को निशाने पर लिया। वहीं, उन्होंने सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों का भी गुणगान कर करसोग वासियों से अपना पड़ोसी धर्म निभाने की बात कही।

जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष पर तंज कसा कि दिल्ली में महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन था, जिसमें देशभर से कांग्रेस कार्यकर्ता भाग लेने पहुंचे थे। लेकिन इस दौरान कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आटे को लीटर में तोल गए। उन्होंने कहा कि जो लोग कभी दुकान पर सामान खरीदने नहीं गए, वे भला आटा दाल का भाव क्या समझेंगे।

उन्होंने कहा कि जिस नेतृत्व को यही पता नहीं कि गरीब लोग जब दुकान पर आटा खरीदने जाते हैं तो आटा किलो में बिकता है या लीटर में। इससे बड़ा दुर्भाग्य देश का नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि एक तरफ कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा पर निकली है। वहीं, कांग्रेस में पार्टी छोड़ो अभियान तेजी से चला है। स्थिति ये है कि राष्ट्रीय स्तर पर गुलाम नवी कांग्रेस से आजाद हो गए हैं। हिमाचल में भी कांग्रेस इसी राह पर अग्रसर है।

जयराम ठाकुर ने बिना नाम लिए संबोधन किया कि एक श्रीमान करसोग में भी रोजगार यात्रा करने आए थे, लेकिन वे भूल गए कि ये बेरोजगारी जयराम के पांच साल के राज में नहीं बढ़ी है। ये बेरोजगारी उनके शासन काल से चली आ रही है। जिन्होंने सत्ता पर सबसे अधिक राज किया है। आज यही लोग बेरोजगारों के हितों की रक्षा करने का ड्रामा कर रहे हैं।

जयराम ठाकुर ने 10 गारंटी योजना को लेकर भी कांग्रेस को घेरा। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री 18 साल से ऊपर की महिलाओं को हर माह 1500-1500 रुपए देने की बात कर रहे हैं। क्या उन्होंने अपने राज्य में भी ऐसा किया है? ऐसे में कांग्रेस लोगों को गुमराह करने की कोशिश न करे। जयराम ठाकुर ने कहा कि वैसे हिमाचल में भाजपा का तंबू गढ़ गया है, जो अब 20 सालों तक उखड़ने वाला नहीं है।

90 करोड़ की 33 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने करीब 90 करोड़ रुपए की 33 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए।‘इस दौरान मुख्यमंत्री ने पांगणा में डिग्री कॉलेज खोलने, करसोग डिग्री कॉलेज में MA इतिहास और M.SC की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने धार में आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने, पशु औषधालय तत्तापानी को पशु चिकित्सा अस्पताल में स्तरोन्नत करने के अलावा

अशला में उप तहसील खोलने, शंश और पोखी में स्वास्थ्य उप केंद्र खोलने और खन्योल बगड़ा में वन निरीक्षण कुटीर के निर्माण की भी घोषणा की। जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने प्रदेश के गठन के 75 साल के आयोजन कांग्रेस नेताओं को रास नहीं आ रहे हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि ये नेता इस ऐतिहासिक आयोजन को भी राजनीतिक चश्मे से देख रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस उत्सव को आयोजित करने का एकमात्र उद्देश्य हिमाचल को विकास के मामले में देश का अग्रणी राज्य बनाने में यहां के लोगों की भूमिका और योगदान के लिए उनका आभार व्यक्त करना है। जयराम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान सरकार ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा, सहारा, हिमकेयर, मुख्यमंत्री स्वावलंबन जैसी विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत कर यह सुनिश्चित किया है कि इन कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से आम आदमी के जीवन में सुखद बदलाव लाए जा सकें।

उन्होंने कहा कि महिलाओं को HRTC की बसों में किराए में 50 प्रतिशत की छूट व घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट बिजली मुफ्त दी जा रही है।

खबरें और भी हैं...