सुंदरनगर में बिजली विभाग की चेतावनी:उपभक्ताओं पर 70 लाख की देनदारी, 28 जनवरी तक बिल जमा करवाने का दिया अल्टीमेटम

सुंदरनगर10 दिन पहले
प्रतीकात्मक फोटो।

हिमाचल में जिला मंडी के विद्युत विभाग के उपमंडल सुंदरनगर में उपभोक्ताओं पर विभाग की करीब 70 लाख रूपए की देनदारी है। समय पर बिल जमा न करवाने के कारण विद्युत विभाग को भी वित्तीय नुकसान झेलना पड़ रहा है। बार-बार चेतावनी के बावजूद भी उपभोक्ता बिजली के बिल जमा नहीं करवा रहे हैं।

यह आंकड़ा पिछ्ले करीब एक वर्ष से करीब 70 लाख रूपए तक पहुंच चुका है। परंतु ऐसे उपभोक्ताओं के साथ विभाग ने भी अब कड़ाई से निपटने का निर्णय लिया है। विभाग की ओर से लोगों को 28 जनवरी तक लंबित बिजली बिलों के भुगतान का समय दिया है इसके उपरांत जो उपभोक्ता बिजली बिल जमा नहीं करवाएंगे उनके बिजली के कनेक्शन काट दिए जाएंगे।

सुंदरनगर में 25 हजार उपभोक्ता
विद्युत विभाग के सुंदरनगर उपमंडल में करीब 25 उपभोक्ता हैं। इनमें से करीब पांच हजार उपभोक्ता विभाग के बिल की अदायगी समय पर नहीं कर रहे हैं। सुंदरनगर उपमंडल में विद्युत विभाग के छः सेक्शन हैं। इनमें तीन सेक्शन शहरी क्षेत्र के शामिल हैं इनके अलावा महादेव, पुंघडू तथा जयदेवी क्षेत्र शामिल हैं। इसके साथ ही राजकीय इंजीनियरिंग कालेज तथा जयदेवी स्थित सब स्टेशन भी इसी उपमंडल में शामिल हैं।

बार-बार चेतावनी के बाद नहीं दे रहे बिल
उपमंडल के इन 25 हजार उपभोक्ताओं में से करीब पांच हजार उपभोक्ता पिछ्ले करीब एक वर्ष से समय पर बिल की अदायगी नहीं कर रहे है। इसको लेकर समय समय विभाग के कर्मचारियों की ओर से बिल जमा करवाने की उपभोक्ताओं से अपील की जाती है परंतु इन उपभोक्ताओं की ओर से विभागीय कर्मचारियों की इस अपील को हमेशा नजर अंदाज किया गया है। लेकिन अब विभाग ने पेंडिग बिलों की वसूली के मामले को गंभीरता से लिया है और उपभोक्ताओं को चेतावनी के साथ कनेक्शन काटने की प्रक्रिया शुरू करने का मन बना लिया है।

स्मार्ट मीटर से हल होगी समस्या
प्रदेश में विद्युत विभाग की स्मार्ट मीटर लगाने की योजना प्रस्तावित है। यदि यह योजना सिरे चढ़ती है तो निकट भविष्य में विभाग को बिजली बिलों की वसूली की इस समस्या से निजात मिल जाएगी। इन मीटरो के लगने से बिल की अदायगी न होने पर कनेक्शन अपने आप कट जायेगा। बिल की अदायगी के साथ ही कनेक्शन बहाल किए जाने की योजना है। परंतु जब तक स्मार्ट मीटर नहीं लगते तब तक विभाग को कड़े निर्णय लेते हुए बिल की वसूली करनी पड़ेगी।

करीब 70 लाख रूपए की राशि के बिल पेंडिंग- गौड़
विद्युत उप मंडल के सहायक अभियंता राजन गौड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि​​​​​​​ सुंदरनगर विद्युत उपमंडल में करीब 70 लाख रूपए की राशि के बिल पेंडिंग हैं। जिस कारण विभाग को वित्तीय नुकसान हो रहा है। जिन उपभोक्ताओं के बिल पेंडिंग हैं वे 28 जनवरी तक बिलों का भुगतान करें उसके उपरांत बिजली कनेक्शन बिना सूचना के काट दिए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...