पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Bada Bhangal Village Has Neither Electricity Nor Road, A Satellite Phone In The Name Of Connectivity; Lived Through Animal Husbandry And Farming

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चुनाव से बदलाव की उम्मीद:बड़ा भंगाल गांव में न बिजली है न सड़क, कनेक्टिविटी के नाम पर एक सैटेलाइट फोन; पशुपालन व खेती से गुजारा

कांगड़ा/चंडीगढ़8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 3 दिन के पैदल सफर के बाद पहुंच सकते हैं बड़ा भंगाल गांव, जहां अभी रह रहे 17 मतदाताओं से वोट डलवाने हेलीकॉप्टर से पहुंचेगी टीम

अति दुर्गम गांव बड़ा भंगाल एक बार फिर पंचायत चुनाव का गवाह बनेगा। यूं तो यहां की आबादी 670 है जिनमें से 425 वोटर हैं। पर वर्तमान में गांव में 18 लोग ही रह रहे हैं, जिनमें 17 वोटर हैं। पंचायत में 5 वार्ड हैं। 21 जनवरी को होने वाले मतदान के लिए प्रशासन की टीम हेलीकाॅप्टर से जाएगी।

इस गांव के बाकी लोग बीड़ में बने केंद्र में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। बड़ा भंगाल गांव बीड़ बैजनाथ से करीब 80 किमी दूर है और ये लोग चाहकर भी वोट देने के लिए पैदल सफर कर बीड़ नहीं पहुंच सकते, क्योंकि भारी बर्फबारी के बाद 4654 मीटर ऊंचा थमसर पास बंद हो चुका है। दूसरा रास्ता चंबा से होकर है जो करीब 300 किलोमीटर लंबा है।

गांव की कई दिक्कतें हैं, एक ऐसा गांव जहां पर अभी भी बिजली, सड़क की सुविधा नहीं है। यह गांव मुख्यत: चम्बा, कुल्लू और लाहौल आदि जिलों की सीमाओं के साथ लगता है। इस गांव तक पहुंचने के लिए मुख्यत: दो रास्ते हैं। पहला थमसर पास से और दूसरा जालसू जोत से होकर।

बड़ा भंगाल शेष दुनिया से करीब 7 महीने कटा रहता है, इस दौरान गांव के लोगों का बाहरी दुनिया से संपर्क नहीं रहता

गांव तक पहुंचने में 3 से 4 दिन लगते हैं। यहां के लोगों को मुख्यत: स्वरोजगार और खेती पर निर्भर रहना पड़ता है। स्कूल शिफ्टिंग की वजह से बच्चों को 6 महीने बड़ा भंगाल व 6 महीने बीड़ में पढ़ना पड़ता है। सभी परिवार सर्दियों में बड़ा भंगाल से बीड़ में अपने पशुधन के साथ आ जाते हैं। कुछ ही लोग गांव में रह जाते हैं। इन दिनों वहां सिर्फ 17 हैं।
(जानकारी बड़ा भंगाल निवासी पवना देवी ने दी है।)

हिमाचल के दुर्गम गांव

समुद्रतल से 7700 फुट की ऊंचाई पर स्थित है बड़ा भंगाल...

कुल आबादी 670

कुल वोटर 439

227 पुरूष वोटर 212 महिला वोटर

51% 49%

गांव के लिए कोई सीधी सड़क नहीं, ऊंचे पहाड़ों और दर्रों का रास्ता लेना पड़ता है। ये रास्ते भी बर्फ की वजह से साल के 7 महीने बंद रहते हैं, पास में बहने वाली रावी नदी में बाढ़ आ जाए तो दिक्कत अलग।

ये है थमसर पास, इसे पार करना बड़ा चैलेंज...

इस गांव तक पहुंचने के लिए मुख्यत: दो रास्ते हैं। पहला थमसर पास से और दूसरा जालसू जोत से होकर। बीड़ से बड़ा भंगाल जाने के लिए रास्ता बेहद खतरनाक है। बड़ा भंगाल शेष दुनिया से करीब 7 महीने कटा रहता है।

गांव का हाई स्कूल

प्रदेश में 2496 पोलिंग बूथ स्नो बाउंड एरिया में

हिमाचल में 7 जिलाें के 2496 पाेलिंग बूथ स्नाे बांउड एरिया में है, इनमें शिमला में सबसे ज्यादा 1017 पाेलिंग बूथ।

लाइफ @-20 डिग्री

बर्फबारी से पहले करना पड़ता है राशन का इंतजाम, 7 माह कटा रहता है दुनिया से

बर्फीले पहाड़ों के बीच बसे बड़ा भंगाल गांव में जीवन भी पहाड़ जैसा ही मुश्किल है। बर्फबारी के बाद यहां का तापमान -20 डिग्री और इससे भी नीचे चला जाता है। खाने-पीने की चीजों और अलाव के लिए लकड़ियों का इंतजाम बर्फबारी से पहले करना पड़ता है। गांव की आबादी करीब 700 है लेकिन बर्फबारी के बाद यहां कुछ ही लोग घरों की देखभाल के लिए रह जाते हैं।

बाकी बीड़ में शिफ्ट हो जाते हैं। पढ़ाई के लिए यहां एक प्राथमिक पाठशाला है जिसमें 5 कक्षाओं के लिए एक ही अध्यापक है। वहीं हाई स्कूल में सिर्फ दो टीचर। बर्फबारी के बाद स्कूल भी बीड़ में शिफ्ट हो जाते हैं। लोग जीवनयापन के लिए मक्की, राजमाह और आलू की खेती करते हैं। फसलें भी मौसम पर निर्भर हैं। सिंचाई की कोई सुविधा नहीं। यदि बारिश हुई तो फसल अच्छी हो जाती है।

जानवरों से फसलों को बचाया जा नहीं सकता। फसलों को बेचने के लिए कोई मंड नहीं है। राशन की उपलब्धता भी केवल डिपुओं के माध्यम से होती है जो नाकाफी है। यदि खुद यहां के लोग शहर से सामान मंगवाते हैं तो वह करीब दोगुना तक महंगा हो जाता है।

एक नमक का पैकेट ही 55 रुपए का मिलता है। स्वास्थ्य सुविधाएं भी नाममात्र हैं। एक आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी है जो कई साल पहले बनी है। पशुओं के लिए कोई वेटनरी डॉक्टर नहीं है। मनरेगा के माध्यम से बड़ा भंगाल के लोग यहीं पर रोजगार ले सकते हैं, लेकिन यहां ऐसा कोई काम ही नहीं होता। यहां का जीवन इलाके की तरह ही दुर्गम है।

(जैसा यहां के निवासी प्रो. तरसेम ने बताया)

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिस्थितियां अति अनुकूल है। कार्य आसानी से संपन्न होंगे। आपका अधिकतर ध्यान स्वयं के ऊपर केंद्रित रहेगा। अपने भावी लक्ष्यों के प्रति मेहनत तथा सुनियोजित ढंग से कार्य करने से काफी हद तक सफलत...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser