लॉकडाउन / दियोटसिद्ध मंदिर के चढ़ावे में आई गिरावट

X

  • मई माह में खचाखच भरा रहता था परिसर, एफडी के ब्याज से दिया जा रहा कर्मचारियों का वेतन

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:39 AM IST

दियोटसिद्ध. उत्तरी भारत के विश्व प्रसिद्ध सिद्धपीठ बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध में बिना श्रद्धालुओं के सूना ही दिखाई दे रहा है। इस महीने में बाबा की नगरी श्रद्धालुओं से खचाखच भरी रहती थी, परंतु कोरोना के चलते देवालय के कपाट भी पिछले काफी अर्से से बंद पड़े हैं‍ दूसरी तरफ देवालय में चढ़ावे में भारी कमी दर्ज की गई है। वर्ष 2019 में कुल इंकम 26 करोड़, 42 लाख, 64 हजार, 049 रुपए हुई थी। जबकि इसी वर्ष 20 करोड़, 97 लाख, 70 हजार, 243 रुपए मंदिर ट्रस्ट द्वारा खर्च करने के बाद शुद्ध लाभ के रूप में 5 करोड़, 48 लाख, 67 हजार, 580 रुपए प्राप्त हुए थे। वर्ष 2020 में कोरोना महामारी के चलते दियोटसिद्ध मंदिर की आय में भारी गिरावट दर्ज की गई है। 
वर्ष 2020 में प्रथम जनवरी से लेकर आज दिन तक मंदिर में 5 करोड़, 48 लाख, 67 हजार, 580 रुपए चढ़ावे के रूप प्राप्त हुए हैं, जबकि इस वर्ष मंंदिर का कुल खर्चा 14 करोड़, 13 लाख, 54 हजार, 960 रुपए आंका गया है यानि वर्ष 2020 में अब तक मंदिर की आय कम और खर्चा ज्यादा दर्ज किया गया है। जब से मंदिर ट्रस्ट बना है मंदिर में चढ़ावा कम, जबकि खर्चा चढ़ावे से अधिक हुआ है यानि मन्दिर ट्रस्ट को 2020 वर्ष में आज दिन तक 8 करोड़, 64 लाख, 87 हजार, 380 रुपए का सीधा-सीधा घाटा हुआ है, जोकि आने वाले वक्त में चिंतनीय हाे सकता है।

  • वर्ष 2020 में मार्च माह से मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से बंद हैं, फिर भी आज दिन तक मंदिर में 5 करोड़, 48 लाख, 67 हजार 580 रुपए चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुए हैं, जबकि अब तक 14 करोड़, 13 लाख, 54 हजार, 960 रुपए खर्च किए जा चुके हैं। इस बार देवालय में आय कम तथा खर्चा अधिक हो रहा है। पूर्व में बैंक डिपाॅजिट राशि से प्राप्त ब्याज की रकम से ट्रस्ट के कर्मचारियों को वेतन दिया जा रहा है। -ओपी लखनपाल, मंदिर अधिकारी, बीबीएन मंदिर दियोटसिद्ध

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना