• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Due To Lack Of Roads In Himachal Villages, People Lost Their Lives Due To Lack Of Facilities

पत्थरों से भरी पगडंडी:हिमाचल के गांवों में सड़कें न होने से लोगों को परेशानी, सुविधाओं के अभाव में बुजुर्ग ने गंवाई जान

कुल्लू2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कुल्लू जिला की सैंज घाटी में अति दुर्गम पंचायत शांघड़ के एक बुजुर्ग ने सुविधाओं के अभाव में जान गवाई। - Dainik Bhaskar
कुल्लू जिला की सैंज घाटी में अति दुर्गम पंचायत शांघड़ के एक बुजुर्ग ने सुविधाओं के अभाव में जान गवाई।
  • चारपाई पर कंधे में उठा कर लाया जा रहा था अस्पताल, रास्ते में तोड़ा दम
  • ग्रामीणों का आरोप केवल आश्वासन मिलते है, पंचायत चुनाव के बहिष्कार का ऐलान

कुल्लू जिला की सैंज घाटी में अति दुर्गम पंचायत शांघड़ के एक बुजुर्ग ने सुविधाओं के अभाव में जान गवा दी है। पंचायत में सड़क सुविधा न होने के कारण बुजुर्ग को जान गंवानी पड़ी है। बुजुर्ग ने अस्पताल पहुंचने से पहले ही रास्ते में दम तोड़ दिया।

धारा लपाह के ग्रामीण बुजुर्ग मरीज को उपचार के लिए कुर्सी पर उठाकर 10 किलोमीटर पैदल चलकर सड़क तक निहारनी ले आए। यहां से एक गाड़ी में बैठाकर सैंज की ओर रवाना हुए लेकिन चार किलोमीटर आगे बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। इससे ग्रामीणों में रोष है और साथ में पंचायत चुनाव के बहिष्कार करने का भी ऐलान किया है।

शनिवार को धारा लपाह गांव के 85 वर्षीय बुजुर्ग मने राम की तबीयत बिगड़ गई। ग्रामीण उन्हें कुर्सी पर उठाकर निहारनी ले आए। यहां से एक गाड़ी में बैठाकर सैंज की ओर रवाना हुए लेकिन मने राम को नहीं बचाया जा सका।

ग्रामीण कोम दत्त, पृथ्वी सिंह और प्रभात कुमार ने बताया कि पंचायत के कई गांवों में न तो सड़क सुविधा है और न ही स्वास्थ्य केंद्र। कोई व्यक्ति बीमार हो जाता है तो उसे कुर्सी या पालकी में उठाकर सड़क तक पहुंचाना पड़ता है। उन्होंने कहा कि गांव की सड़क को बनाने का आश्वासन मिलता है लेकिन कोई बनाता नहीं।

खबरें और भी हैं...