पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Gagret Police Constantly Tightens Screws On Mining Mafia: Three Tippers Seized Late On Wednesday Night

सख्ती:खनन माफिया पर गगरेट पुलिस का लगातार कसता शिकंजा: बुधवार देर रात जब्त किए तीन टिप्पर

ऊना9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसपी अम्‍ब सृष्‍ट‍ि पांडे के मुताबिक गगरेट पुलिस ने तीन टिप्पर देर रात जब्‍त किए हैं। पुलिस ने इस बार जुर्माना नहीं वसूला है, टिप्पर बांड किए हैं। खनन माफिया के खिलाफ पुलिस लगातार सख्ती जारी रखेगी। - Dainik Bhaskar
एसपी अम्‍ब सृष्‍ट‍ि पांडे के मुताबिक गगरेट पुलिस ने तीन टिप्पर देर रात जब्‍त किए हैं। पुलिस ने इस बार जुर्माना नहीं वसूला है, टिप्पर बांड किए हैं। खनन माफिया के खिलाफ पुलिस लगातार सख्ती जारी रखेगी।
  • तीनों टिप्परों को जब्‍त कर लिया गया ताकि माफिया अदालत में आकर इन्हें रिलीज करवाए
  • इस इलाके से खनन माफिया पड़ोसी राज्य पंजाब के लिए अवैध रूप से रेत ले जाता है

प्रदेश सरकार लगातार खनन माफिया पर नकेल कसने में लगी है। इसी के अंतर्गत बुधवार देर रात ऊना के अंतर्गत आते गगरेट की पुलिस ने अवैध रूप से ले रेत ले जा रहे तीन टिप्पर जब्त किए हैं। पुलिस ने लोहारली में नाका लगाया हुआ था जब इन टिप्परों को पकड़ा। बता दें कि इस इलाके से खनन माफिया पड़ोसी राज्य पंजाब के लिए अवैध रूप से रेत ले जाता है।

बुधवार गगरेट थाना प्रभारी हरनाम सिंह के नेतृत्व में पुलिस ने लोहारली में नाका लगाया हुआ था। इस दौरान सामने से तीन टिप्पर अवैध रूप से रेत लेकर आए। पूछताछ के बाद तीनों टिप्परों को जब्‍त कर लिया गया ताकि माफिया अदालत में आकर इन्हें रिलीज करवाए। हालांकि इससे पहले मौके पर चालान काट कर जुर्माना वसूल कर भेज दिया जाता था।

पिछले कई दिनों से गगरेट पुलिस खनन माफिया के खिलाफ अभियान छेड़े हुए है। इससे पहले पुलिस ने छह टिप्पर पकड़े थे और 90,000 जुर्माना वसूल किया था। बता दें कि हरोली से आने वाला ये रेत पहले घालुवाल के रास्ते से पंजाब के लिए ले जाया जाता था। लेकिन पंजाब पुलिस ने कार्रवाई करत हुए बॉर्डर पर धर्मकांटा लगा दिया और एक चेक पोस्ट भी बना दी।

इसलिए अब खनन माफिया ने अब अपना रास्ता बदल कर गगरेट से कर दिया है।एसपी अम्‍ब सृष्‍ट‍ि पांडे के मुताबिक गगरेट पुलिस ने तीन टिप्पर देर रात जब्‍त किए हैं। पुलिस ने इस बार जुर्माना नहीं वसूला है, टिप्पर बांड किए हैं। खनन माफिया के खिलाफ पुलिस लगातार सख्ती जारी रखेगी।