पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विदेश में कोरोना वॉरियर्स:मंडी के दो युवा भाई ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वॉरियर्स के रूप में दे रहे अपनी सेवाऐं,लोग कर रहे प्रशंसा

मनालीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हिमाचल के मंडी जिले के रहने वाले दो भाई ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे। लोगों की सेवा कर रहे। - Dainik Bhaskar
हिमाचल के मंडी जिले के रहने वाले दो भाई ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे। लोगों की सेवा कर रहे।
  • मानवता की सेवा करनी हो तो उसके लिए स्थान या समय नहीं देखा जाता
  • भाई के पास घूमने गए अच्छयुतम लॉकडाउन में फंसे तो सेवा काम शुरू किया

शहर के दो युवा भाई ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वॉरियर्स के रूप में अपनी सेवाऐं दे रहे है। यहां पर संक्रमण से प्रभावित लोगों की सहायता के लिए शहर के अभिषेक अवस्थी और उनका भाई अच्छयुतम अवस्थी पूरे दिन लगे रहते है। ऑस्ट्रेलिया भी कोरोना संक्रमण की चपेट से अछूता नहीं रहा है। जिसके चलते सरकार ने वहां पर भी लॉक डाउन कर रखा है।

मंडी के रहने वाले

मंडी शहर के अभिषेक अवस्थी 2008 से ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया राज्य के बैंडिगो शहर में रह रहे हैं। मौजूदा समय में अभिषेक विक्टोरियन राज्य सरकार के मल्टीकल्चरल कमीशन की रिजनल एडवाइजरी काउंसिल के सदस्य और लॉडन कैम्पेस्पी मल्टीकल्चरल सर्विस के चेयरमैन हैं।

टीम के साथ काम कर रहे

अभिषेक अवस्थी फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में कार्य करते हुए कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे हैं। बैंडिगो शहर में ऐसे 200 लोगों की टीम बनाई गई है जो इस आपदा के कारण प्रभावित हुए लोगों तक मदद पहुंचा रहे हैं। अभिषेक अवस्थी बताते हैं कि उनकी टीम हर हफ्ते 13 हजार लोगों तक जरूरत का सामान पहुंचाने में लगी हुई है। जिसमें राशन, सब्जी, दूध और दवाईयों सहित अन्य जरूरत का सामान मौजूद है।

भारत के फ्रंटलाइन वर्कर का आभार जताया

अभिषेक ने ऑस्ट्रेलिया से भेजे संदेश में भारत सरकार द्वारा समय रहते उठाए गए कदमों की सराहना की। उन्होंने कहा कि भारत में जो फ्रंटलाइन वर्कर हैं उनका वह आभार जताना चाहते हैं जिनके कारण देश सुरक्षित रह पा रहा है। वहीं इन्होंने लोगों से सरकार व प्रशासन के दिशा निर्देशों का पालन करने का आहवान भी किया है।

छोटा भाई और मां लॉकडाउन में फंसे

अभिषेक का छोटा भाई अच्छयुतम अवस्थी अपनी मां के साथ ऑस्ट्रेलिया घूमने गए थे। उन्हें13 अप्रैल को वापस आना था लेकिन कोरोना ने वापसी की राह रोक दी। ऐसे में अच्छयुतम भी वहां अपने भाई के साथ समाजसेवा में जुट गया। अच्छयुतम अवस्थी ने अपने शहर के लोगों से सुरक्षित रहने की अपील की है। अच्छयुतम का कहना है कि उन्हें यहां पर मानवता की सेवा करने का मौका मिला है और ऐसा करके वह काफी खुश हैं।  बैंडिगो शहर के लोग इन दोनों भाईयों की सेवाओं से काफी ज्यादा प्रभावित नजर आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

    और पढ़ें